Back
Home » समाचार
पुलिस ने मारा तो एक फोन पर पहुंच गया गांव, बवाल के बाद चौकी छोड़कर भागे पुलिसवाले
Oneindia | 12th Jul, 2018 07:21 PM

कानपुर। कानपुर देहात में आज भीड़ ने पुलिस चौकी पर पहुंचकर हंगामा किया और जमकर बवाल काट दिया। 5-60 लोगों को पुलिस चौकी पर हंगामा करते हुए देख जैसे-तैसे पुलिसकर्मी वहां से अपनी जान बचाकर भागे। मामला कानपुर देहात का है जहां कार में हल्की सी टक्कर लग जाने से शुरू हुआ मामला काफी आगे बढ़ गया और ग्रामीणों ने जमकर पथराव किया और पुलिसकर्मियों को पीट दिया। बवाल की सूचना मिलने पर भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा तो भीड़ को तितर-बितर किया गया। पुलिस ने मामले में दोनों पक्षों की बात सुनकर छानबीन के बाद मामले में कार्रवाई करने की बात कही है।

मामला कानपुर देहात के मंगलपुर क्षेत्र का है जहां संदलपुर चौकी पुलिस में उस समय हड़कंप मच गया जब भदेमऊ गांव के करीब 50-60 लोगों ने पुलिस पर हमला बोल दिया। दरअसल कार में एक ट्रक की हल्की सी टक्कर लगने पर सादी वर्दी में तीन सिपाही व कार चालक में बहस होने के बाद पुलिस व कार चालक एवं उसकी पत्नी के बीच हाथापाई हो गई थी। इसके बाद ग्रामीणों ने जमकर पथराव करते हुए पुलिसकर्मियों को पीट दिया। जैसे-तैसे पुलिसकर्मी जान बचाकर भागे। चौकी में अफरा तफरी का माहौल बन गया। काफी देर तक बवाल होने के बाद भारी तादात में पहुंची थाना पुलिस ने उपद्रवियों को खदेड़ा और कुछ लोगों को हिरासत में लिया। वहीं तीन सिपाहियों की धुनाई कर दी।

दरअसल शुक्लागंज उन्नाव निवासी जितेंद्र कुमार की ससुराल मंगलपुर क्षेत्र के भंदेमऊ गांव में है। वह अपनी ससुराल से कार द्वारा अपने परिवार के साथ वापस घर जा रहे थे। तभी संदलपुर ब्लाक के सामने तेज रफ्तार डंपर ने कार में साइड से टक्कर मार दी। जितेंद्र ने डंपर चालक को पुलिस चौकी के सामने ओवरटेक कर रोक लिया और दोनों में बहस होने के बाद जितेंद्र ने उसकी पिटाई कर दी। यह देखकर सादी वर्दी में खडे़ सिपाही जोगेंद्र सिंह, संजय व यामीन वहां पहुंच गए और जितेंद्र को पीटकर चौकी के अंदर घसीटने लगे। इस बीच डंपर चालक वहां से भाग निकला।

जितेंद्र की पत्‍‌नी रजनी ने सूचना गांव भेजी तो आधा सैकड़ा ग्रामीण संदलपुर चौकी पहुंच गए और जमकर पथराव करते हुए जितेंद्र को छुड़ा लिया। पथराव व हंगामा देख चौकी पुलिस आनन फानन में जान बचाकर चौकी छोड़ भाग गए। बवाल की सूचना मिलते ही थाना मंगलपुर से भारी पुलिस फोर्स पहुंचने के बाद पुलिस ने उपद्रवियों को खदेड़ दिया। इसके बाद जितेंद्र व कुछ ग्रामीणों को मंगलपुर थाने लाया गया। वहीं जितेंद्र की पत्नी रजनी ने सिपाहियों पर मारपीट करने व सोने की चेन गायब हो जाने का आरोप लगाया है। मंगलपुर इंस्पेक्टर तुलसीराम पांडेय ने बताया कि मामले छानबीन की जा रही है। दोनों पक्षों को सुना जा रहा है।

   
 
स्वास्थ्य