Back
Home » समाचार
बुराड़ी कांड: 11वें सदस्य की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई सामने, ऐसे हुई थी नारायणी देवी की मौत
Oneindia | 12th Jul, 2018 08:07 PM
  • डॉक्टरों की टीम ने घर का मुआयना भी किया

    इससे पहले मृतक परिवार के 10 लोगों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई थी। उसमें भी 10 लोगों की मौत लटकने की वजह से बताई गई थी। दरअसल नारायणी देवी का शव कमरे में जमीन पर पड़ा मिला था। जिसके चलते उनकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर सभी डॉक्टरों की सहमति नहीं बन रहा थी। जिसके चलते मंगलवार को डॉक्टरों की टीम ने घर का मुआयना भी किया। अब जबकि सभी शवों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ गई है तो साफ है कि, सभी 11 लोगों की मौत फांसी लगने से हुई थी।


  • 11 लोगों के विसरा को फोरेंसिक जांच के लिए भेजा

    इस मामले पर जॉइंट कमिश्नर आलोक वर्मा ने कहा कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के अनुसार सभी लोगों की मौत लटकने से हुई थी जिससे आत्महत्या की बात पुख्ता होती है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि आगे की जांच जारी है। भाटिया परिवार के 11 लोगों के शवों का मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज के तीन-तीन डॉक्टरों के दो मेडिकल बोर्ड ने पोस्टमार्टम किया था। पुलिस जल्द ही 11 लोगों के विसरा को फोरेंसिक जांच के लिए भेज देगी। दूसरी तरफ, दिल्ली पुलिस ने हैंडराइटिंग के नमूने एकत्र करना शुरू कर दिया, ताकि पता लगाया जा सके कि घर से जो रजिस्टर मिले हैं, वह किसने लिखे थे।


  • मृतकों की पहचान

    मृतकों की पहचान नारायण देवी (77), उनकी बेटी प्रतिभा (57) और दो बेटे भावनेश (50) और ललित भाटिया (45) के रूप में हुई है। भावनेश की पत्नी सविता (48) और उनके तीन बच्चे मीनू (23), निधि (25) और ध्रुव (15), ललित भाटिया की पत्नी टीना (42) और उनका 15 वर्ष का बेटा शिवम , प्रतिभा की बेटी प्रियंका (33) भी मृत मिले। प्रियंका की पिछले महीने ही सगाई हुई थी और इस साल के अंत तक उसकी शादी होनी थी।




नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली के बुराड़ी में एक घर में 11 मौतों के मामले में अब घर की सबसे बुजुर्ग सदस्य नारायणी देवी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ चुकी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक, नारायणी देवी की मौत फांसी पर लटकने की वजह से हुई है। इससे पहले नारायणी देवी की मौत को लेकर सभी डॉक्टर एकमत नहीं थे। जिसके चलते रिपोर्ट तैयार करने में देरी हो रही थी। डॉक्टरों की टीम ने मौके का मुआयना और आपसी बातचीत के बाद नारायणी देवी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट गुरुवार को दिल्ली पुलिस को सौंप दी है।

   
 
स्वास्थ्य