Back
Home » खेल
विंबलडन 2018: सेरेना विलियम्स और एंजेलिक कर्बर के बीच होगी खिताबी भिड़ंत
Khabar India TV | 12th Jul, 2018 09:33 PM

मां बनने के कारण पिछले साल कोर्ट से बाहर रहीं सात बार की चैंपियन सेरेना विलियम्स ने दसवीं बार विंबलडन टेनिस टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाई जहां उनका सामना जर्मनी की एंजेलिक कर्बर से होगा। अमेरिका की 25वीं वरीयता प्राप्त सेरेना ने जर्मनी की 13वीं वरीय जूलिया गोर्जेस को 6-2, 6-4 से हराकर 30वीं बार ग्रैंडस्लैम फाइनल में प्रवेश किया। अगर सेरेना 2016 की तरह कर्बर को फाइनल में हराने में सफल रहती हैं तो वो मार्गरेट कोर्ट के 24 ग्रैंडस्लैम खिताब के सर्वकालिक रिकार्ड की बराबरी कर लेंगी। जर्मनी की 11वीं वरीयता प्राप्त कर्बर ने पहले सेमीफाइनल में लाटविया की 12वीं वरीय तथा पूर्व फ्रेंच ओपन चैंपियन येलेना ओस्टापेंको को केवल 67 मिनट में 6-3, 6-3 से हराया। वो दूसरी बार विंबलडन के फाइनल में पहुंची हैं।
सेरेना पिछले साल अपनी बेटी ओलंपिया को जन्म देने के बाद पहली बार किसी ग्रैंडस्लैम के फाइनल में पहुंची हैं। विंबलडन में लगातार 20 मैच जीतने वाली सेरेना अभी 36 साल 291 दिन की हैं और ओपन युगल में ग्रैंडस्लैम फाइनल में पहुंचने वाली तीसरी उम्रदराज खिलाड़ी हैं। सेरेना ने मैच के बाद कहा, ‘‘ये रोमांचित करने वाला है। मैं ये भी नहीं जानती कि ये कैसा एहसास है। ये मेरा वापसी के बाद चौथा टूर्नामेंट है और मैंने इसकी उम्मीद नहीं की थी।’
अगर सेरेना आठवां खिताब जीतती हैं तो वो स्टेफी ग्राफ को पीछे छोड़कर महिला वर्ग में सर्वाधिक खिताब जीतने के मामले में मार्टिना नवरातिलोवा के बाद दूसरे स्थान पर पहुंच जाएंगी। कर्बर के खिलाफ मुकाबले के बारे में सेरेना ने कहा, ‘‘वो ग्रास कोर्ट की बहुत अच्छी खिलाड़ी हैं लेकिन जो भी होगा मेरे लिए ये यादगार क्षण है।’’ कर्बर अब ग्राफ के बाद विंबलडन जीतने वाली दूसरी जर्मन महिला खिलाड़ी बनने की करीब पहुंच गयी हैं। ग्राफ ने अपना आखिरी विंबलडन खिताब 1996 में जीता था।
दो बार की ग्रैंडस्लैम चैंपियन कर्बर को ओस्टापेंको को हराने में खास मशक्कत नहीं करनी पड़ी क्योंकि लाटविया की खिलाड़ी ने कई असहज गलतियां की। कर्बर ने केवल दस विनर जमाए लेकिन ये उनकी जीत के लिए पर्याप्त थे। कर्बर ने बाद में कहा, ‘‘मैंने केवल मौके भुनाने पर ध्यान दिया। मैं बहुत उत्साहित हूं। फिर से फाइनल में जगह बनाकर अच्छा लग रहा है। सेंटर कोर्ट पर खेलना हमेशा खास होता है।’’
इस बीच पुरूष वर्ग के सेमीफाइनल में दो बार के चैंपियन और विश्व के नंबर एक खिलाड़ी राफेल नडाल का मुकाबला 12वीं वरीयता प्राप्त नोवाक जोकोविच से होगा। तीन बार के विंबलडन चैंपियन जोकोविच का नडाल के खिलाफ 26-25 का रिकॉर्ड है। पुरूषों में पहला सेमीफाइनल दक्षिण अफ्रीका के आठवें वरीय केविन एंडरसन और अमेरिका के नौवें वरीय जान इस्नर के बीच खेला जाएगा। ये दोनों खिलाड़ी पहली बार विंबलडन के सेमीफाइनल में पहुंचे हैं। एंडरसन ने रोजर फेडरर को पांच सेट तक चले मैच में हराकर अंतिम चार में जगह बनायी थी। यही नहीं ये ओपन युग में पहला अवसर है जबकि पुरूष वर्ग के सेमीफाइनल में पहुंचने वाले सभी खिलाड़ी 30 साल से अधिक उम्र के हैं।

   
 
स्वास्थ्य