Back
Home » स्‍वास्‍थ्‍य
सेलिब्रिटीज और एथलीट जैसी बॉडी के ल‍िए, रोजाना 10 मिनट करें बॉक्‍स जंप वर्कआउट
Boldsky | 18th Jul, 2018 03:51 PM

सोशल मीडिया में कई सेलेब्रेटिज बॉक्‍स जंप वर्कआउट का वीडियो फैंस के बीच शेयर कर रहे है। ये हालांकि नया ट्रेंड तो नहीं है लेकिन इन दिनों बॉक्‍स जंप एक्‍सरसाइज फिटनेस फ्रीक्‍स लोगों के बीच ट्रेंड बना हुआ है। जो लोग टोन बॉडी के साथ पांव के एक्‍स्‍ट्रा फैट घटाना चाहते है उन लोगों के ल‍िए ये एक्‍सरसाइज बहुत इफेक्टिव साबित हो सकती है। ये एक्‍सरसाइज करने से मसल्‍स और बॉडी दोनों टोंड होती है।

बॉक्स जंप वर्कआउट के लिए केवल एक से डेढ़ फीट की बेंच या बॉक्स जरूरत होती है। इसे करने के ल‍िए आपको जिम जाने की भी जरुरत नहीं है, ये आप आराम से कहीं भी कर सकते हैं।

इसके अलावा आप इसे रनिंग, जॉगिंग और साइक्लिंग से ज्‍यादा भी एंजॉय करेंगे।

वर्कआउट की टेक्निक

ये एक्‍सरसाइज करने से पहले आप किसी विशेषज्ञ से इसकी टेक्निक के बारे में सीखिएं, क्‍योंकि सही स्‍टेप्‍स की जानकारी के बिना आप ये एक्‍सरसाइज नहीं कर पाएंगे।

सबसे पहले एक से डेढ़ फीट ऊंचाई की का एक बॉक्स या बेंच रखें। बॉक्स को अच्छी तरह चेक कर लें, ताकि कूदने पर बैलेंस बनाना आसान हो।बेंच या बॉक्स नहीं है तो घर की आखिरी सीढ़ी या किसी हल्‍की सी ऊंची जगह पर भी आप ये एक्‍सरसाइज ट्राय कर सकते है। ऐसी जगह जो घुटनों से ऊपर हो, और आप आराम से जम्‍प कर सकते हो। अब बॉक्स के सामने खड़े हो जाएं और स्‍कवैट की पोजीशन में उछलकर बॉक्स या टेबल पर कुछ सेकंड्स के लिए स्‍कवैट पोजीशन में ही रहें और फिर पीछे की तरफ से टेबल से कूदें और फिर दोबारा स्‍कवैट पोजीशन में आकर दोबारा टेबल या बॉक्स पर उछलें।

इस व्यायाम को कम से कम 12 बार जरूर दोहराएं। शुरुआत में इसे आप इसे 10-10 के 2 सेट में करें।

बढ़ती है फिटनेस और एनर्जी लेवल

इस एक्सरसाइज से फिटनेस और एनर्जी लेवल बढ़ता है, सामान्यत: एथलीट इसे करते ज्यादा दिखाई देते हैं, लेकिन पिछले कुछ समय से फिटनेस फ्रीक्‍स इसे वर्कआउट के रूप में करना पसंद कर रहे हैं। इसे करना बहुत मुश्किल नहीं है, लेकिन शुरुआत में थोड़ी परेशानी आ सकती है। रोजाना इसे 10-10 के सेट में करें, जैसे स्‍टेमिना बढ़ता जाएं वैसे वैसे इस वर्कआउट के सेट बढ़ाते जाएं। रोजाना 10 मिनट भी इस एक्‍सरसाइज को करने से आपका एनर्जी लेवल बूस्‍ट होता जाएगा।

बॉक्‍स जंप करने के फायदें
  • इससे आपके कोर मसल्‍स मजबूत होते है, साथ ही पांव और जांघे टोंड होती है और इनकी मसल्‍स भी मजबूत होती है।
  • इस एक्‍सरसाइज की मदद से आपका मेटाबॉल‍िज्‍म बढ़ेगा और फैट बर्न होगा।
  • इस एक्‍सरसाइज की मदद से आप ज्‍यादा से ज्‍यादा मात्रा में कैलोरीज घटा सकते है और जिससे वजन भी जल्‍दी घटेगा।
  • इस एक्‍सरसाइज में बहुत ज्‍यादा मूव करना होता है जिसकी वजह से आपके जांघे और बट कुछ ही समय में टोंड हो जाएंगे।
  • इस एक्‍सरसाइज के लिए एनर्जी लेवल ज्‍यादा होना चाहिए, जिसकी मदद से आपका फिटनेस लेवल भी कमाल का हो जाएगा।

इन बातों का रखें ध्यान

  • इस एक्‍सरसाइज की टेक्निक सीखने के ल‍िए जरुरी है कि आप इसे किसी एक्‍सपर्ट की निगरानी में ही करें, खुद ही एक्‍सपर्ट बनने की भूल न करें।
  • इंजरी से बचने के लिए इसकी शुरुआत एक्सपर्ट की देखरेख में करें।
  • पैरों में दर्द या जोड़ों में किसी तरह समस्या है या कोई चोट है तो ट्रेनर को जरूर बताएं।
  • इसे हमेशा वॉर्मअप के बाद ही करें वरना इंजरी हो सकती है।

   
 
स्वास्थ्य