Back
Home » स्‍वास्‍थ्‍य
फिश खाते समय फंस जाएं गले में कांटा, इन घरेलू उपायों से निकालें
Boldsky | 25th Sep, 2018 12:13 PM
  • जोर से खांसे

    जैसे ही आपको महसूस हो कि आपके गले में मछली का कांटा अटक गया है तो सबसे पहले जोर-जोर से खांसना शुरु करें। खांसने से आप मछली के कांटे को गले से नीचे जाने से रोक सकते हैं। अक्‍सर ही ऐसा होता है कुछ मिनट तक अगर आप जोर से दम लगाकर खांसे तो इससे शरीर की हवा गले में फंसी हड्डी या कांटे के विपरित जोर लगाने पर बाहर न‍िकाल सकती है।


  • ऑल‍िव ऑयल

    अगर आप खांसी के जरिए हड्डी को निकालने में नाकामयाब रहें है तो ऑलिव ऑयल गले में फंसी हड्डी निकालने में मदद कर सकता है। क्‍योंकि इसमें लुब्रिकेंट होता है जिसके जारिए हड्डी बाहर न‍िकल सकती है। तेल कांटे को चपटा और फिसलन भरा बना देगा, और इसे नरम करने में भी मदद करेगा और इसे तरल वजन से हड्डी का वजन नीचे गिरने लगेगा।


  • विनेगर

    आप चाहे तो विनेगर की भी मदद ले सकती है। जी हां, विनेगर और पानी को मिलाकर पानी से भी मछली का कांटा हलक से नीचे आ जाता है। विनेगर पीने से पेट का एसिड तेज तरीके से काम करने लगता है। और इस वजह से गले में फंसा कांटा नीचे की ओर खिसकने लगता है।


  • आप पके हुए चावल का हाथों से गोला बना लें। और सूखे गोले को ही निगल लें। ऐसा 2 से 3 बार करें। मछली का कांटा आपके पेट के अंदर चला जाएगा।

    आप पके हुए चावल का हाथों से गोला बना लें। और सूखे गोले को ही निगल लें। ऐसा 2 से 3 बार करें। मछली का कांटा आपके पेट के अंदर चला जाएगा।


  • सूखी रोटी खाएं

    अगर चावल उपलब्ध नहीं हैं तो सुखी रोटी को ही थोड़ा सा चबाकर निगल लें। ऐसे में गले में फंसा हुआ मछली का कांटा पेट के अंदर चला जाएगा।


  • केला खाएं

    मछली का कांटा गले में फंस जाने पर तो केले का टुकड़ा बिना चबाएं निगलने की कोशिश करें।


  • पानी में ब्रेड को डुबाकर

    ये तरीका कहते है बहुत ही कारगर साबित होता है। ब्रेड के एक टुकड़े को गर्म पानी में डुबाकर निगल लें। ये पानी से फूलकर बॉल बन जाएगा और इसके चिकनेपन की वजह से मछली का कांटा गले से नीचे उतारने में मदद मिलेगी।


  • डॉक्‍टर से मिलें

    अगर अधिक परेशानी हो रही हो और मछली का कांटा हलक से निकल न रहा हो तो डॉक्टर से मिलें। तो ये हैं कुछ उपाय जिनकी मदद से आप गले में फंसे हुए मछली के कांटे या हड्डी को आसानी से निकाल सकते हैं ।




हम में से कई लोग फिश खाने के बहुत ही बड़े शौकीन होते हैं क्योंकि इसमें विटामिन, प्रोटीन, वसा और ओमेगा 3 की मात्रा काफी अधिक होती हैं। लेकिन मछली के अंदर कांटे होने की वजह से बहुत से लोग इसे खाने से परहेज करते हैं। कांटे के डर की वजह से लोग मछली खाने से दूरी बनाते है। इसल‍िए कई ऐसे भी लोग है जो बिना कांटे वाली मछली खाना खूब पसंद करते हैं लेकिन अधिकांश मछलियों में कांटे होते ही हैं।

अगर आप मछली खाते हैं तो कई बार आपके साथ ऐसा हुआ होगा की मछली का कांटा आपके गले में अटक गया होगा। अगर कभी मछली का कांटा आपके गले में अटक जाएं तो बहुत ही तकलीफ होती है। न तो थूकने की स्थिति बनती है न ही निगलने की। ऐसे में स्थिति और भी बहुत ही कठिन हो जाती है।

कभी आपकी खाने वाली नाली में मछली का कांटा अटक जाए तो परेशान होने की जरूरत नहीं हैं। आज हम आपको हलक में फंसा मछली का कांटा निकालने के तरीके बताने जा रहें हैं।

   
 
स्वास्थ्य