Back
Home » स्‍वास्‍थ्‍य
आज भी कई लोग नहीं जानते है सही तरीके से हाथ धोने का तरीका
Boldsky | 15th Oct, 2018 04:40 PM
  • हाथों को गीला करें

    सबसे पहले सामान्य पानी से हाथों को गीला करें। हाथ अगर गुनगुने पानी से धोए जाएं तो सबसे अच्छा रहता है। इससे अधिक संख्‍या में कीटाणु मरते हैं और हाथ भी कोमल और कीटाणुरहित बनते हैं। लेकिन ध्यान रहे कि पानी अधिक गर्म न हो, गर्म पानी से हाथ की कोमलता पर भी असर पड़ता है।


  • साबुन या लिक्विड हैंडवॉश लें

    अब हाथों में साबुन लगाएं या लिक्विड हैंडवॉश का इस्‍तेमाल करें। हाथ धोने के लिए लिक्विड सोप का इस्‍तेमाल सबसे अच्छा होता है। यह सामान्‍य साबुन के मुकाबले कीटाणुओं से लड़ने में अधिक शक्तिशाली होता है। यह बार बार अलग-अलग इंसानों के हाथों के सीधे संपर्क में नहीं आता है।


  • अच्छी तरह रगड़ें

    साबुन लगाने के बाद हाथों को अच्छी तरह रगड़ें और झाग बनाते हुए करीब 20 सेकेंड तक हाथ धोना चाहिए, अगर आप एंटी बैक्‍टीरियल साबुन की जगह‍ किसी साधरण साबुन का प्रयोग भी करते हो तो वह भी सही तरीके से हाथ धोने पर कीटाणुओं को मारने में कारगर हो सकता है।


  • साफ कपड़े से पोछें हाथ

    हाथ अच्छी तरह धोकर उसे पहने हुए कपड़ों, जेब में रखे रुमाल या किसी दुपट्टे से नहीं पोछना चाह‍िए। इनमें कीटाणु मौजूद होते हैं, जो गीले हाथों में चिपक जाते हैं। इसके लिए साफ-सुथरा सुखे हुए तौलिएं का ही प्रयोग करें। कॉटन कपड़े का विशेषकर उपयोग करें।


  • याद रखें ये बात

    शौचालयों, खासतौर पर सार्वजनिक शौचालय के दरवाजे के हैंडल पर भी काफी कीटाणु होते हैं। इसलिए हाथ धोने के बाद सीधा इन हैंडलों को न छुएं। ऐसा करने से उस पर मौजूद कीटाणु आपके हाथ पर लग जाएंगे और फिर हाथ धोने का कोई फायदा नहीं होगा। किसी चीज से पकड़ कर दरवाजा खोलें।


  • ठंडे पानी से धोएं हाथ

    क्योंकि मौसम सर्दियों का है तो अधिकतर लोग हाथ धोने के लिए गर्म पानी का सहारा लेते हैं। लेकिन अगर आप वास्तव में अपने हाथों से कीटाणुओं को दूर रखना चाहते हैं तो गर्म पानी के स्थान पर ठंडे पानी का ही प्रयोग करें।


  • यात्रा के वक़्त हाथ की स्वच्छता

    ज्‍यादात्तर दिक्‍कत यात्रा के दौरान आती है, आपको हर समय साबुन और पानी नहीं मिल सकता है। आप अल्कोहल आधारित हैंड सैनेटाइज़र का इस्तेमाल कर सकते हैं, जो 99.9% कीटाणुओं को मारता है। अपनी हथेली पर सिक्के के आकार जितना डालें और दोनों हाथों पर तब तक लगाएं जब तक सैनेटाइज़र बिलकुल गायब नहीं हो जाए।


  • किस समय हाथ धोने चाहिए

    शौचालय या पब्लिक शौचालय का इस्तेमाल करने के बाद।
    घाव लगने के बाद उसे साफ करने या मरहम पट्टी लगाने के बाद।
    खाना खाने और बनाने के पहले और बाद में भी।
    बाहर से आने के बाद
    किसी बीमार व्यक्ति से मिलने के बाद और पहले।
    घर की सफाई करने के बाद।
    आंखों में लैंस लगाने से पहले और उतारने के बाद।
    बर्तन धोने के बाद हाथ धोएं।
    खांसने या छींकने के बाद भी हाथ धोना जरुरी होता है।




हमें बचपन से हाथ धोकर खाना खाने की सीख दी जाती है। हाथ धोकर खाना खाना ये न सिर्फ एक अच्‍छे तहजीब की निशानी है बल्कि इस आदत के जरिए हम कई बीमारियों की चपेट में आने से बच सकते है। हाथ धोने से इंफेक्शन और कीटाणुओं के संपर्क में आने से बचाव होता है। खाने के समय हाथ धोना बेहद जरुरी होता है। क्‍योंकि हाथ धोने से शरीर के अंदर कीटाणु अंदर नहीं जाते हैं और गंभीर बीमारियों से बचा जा सकता है। आप मानेंगे नहीं लेकिन बहुत सी बीमारियां तो केवल हाथ ना धोने की वजह से हो जाती हैं।

हम में से कई लोग खाने से पहले हाथ तो जरुर धोते है लेकिन उन्‍हें हाथ धोने के सही तरीके के मालूम नहीं होता है इसल‍िए उनका हाथ धोना या नहीं धोना एक जैसा होता है। हाथ धोते हुए कम से कम 20 सैकेंड आपको देना चाह‍िए। इन 20 सैकेंड की वजह से आप कई खतरनाक बीमारियों को अपने तक आने से रोक सकते हैं। तो आइए जानते है आपको हाथ धोने का सही तरीका क्या होता है।

   
 
स्वास्थ्य