Back
Home » स्‍वास्‍थ्‍य
पॉल्‍यूशन और स्‍मॉग, जानें कैसे दिल्‍ली वाले मनाएं सेफ दीवाली
Boldsky | 5th Nov, 2018 01:57 PM
  • पटाखों से बनाएं दूरी

    दिवाली में आपको कुछ ऐसी सार्वजनिक जगहें तो मालूम होंगी ही जहां लोग पटाखें जलाते है। ऐसी जगह पर जाने से बचें, पटाखों से न‍िकलने वाली खतरनाक जहरीली गैसों की वजह से आपको गंभीर स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याएं हो सकती हैं।


  • ये बात ध्‍यान रखें

    एक बात दिमाग में रखें कि दिवाली के बाद भी हवाओं में धुंआ और पटाखों से न‍िकलने वाला घातक तत्‍व मौजूद रहते है। दरअसल दिवाली से एक हफ्ते पहले ही सेल‍िब्रेशन शुरु हो जाता है। इस समय लोग घरों की सफाई में जुट जाते हैं। ऐसे में धूल मिट्टी की वजह से भी आपको एलर्जी हो सकती है। इसल‍िए आप अच्‍छे मास्‍क का इस्‍तेमाल करें। घर से बाहर निकलते वक्‍त भी और सफाई करते हुए भी।

    Most Read : खाली पेट पीएं सेब की चाय, वेटलॉस से लेकर हाजमा रखें दुरुस्‍त


  • कहीं बाहर चले जाएं

    यदि आप वायु प्रदूषण और धुएं के प्रति बेहद संवेदनशील हैं, तो आपके ल‍िए सलाह है कि आप दिवाली के लिए शहर से बाहर चलें जाएं आप ह‍िल स्‍टेशन पर रहकर भी दिवाली मना सकते है। जहां आपको शुद्ध और ताजी हवा मिलें।


  • पॉल्‍यूशन का स्‍तर जांचे

    अपने स्‍मॉर्ट फोन में एयर क्‍वाल‍िटी चैक एप डाउनलोड करें और हमेशा घर से बाहर न‍िकलने से पहले इस एप की सहायता से रियल टाइम जरुर चैक करें।


  • डॉक्‍टर से जरुर मिलें

    जिन लोगों को स्‍वास्‍थय संबंधी समस्‍या है वो फेस्टिवल के ल‍िए तैयार होने से पहले एक बार रुटीन चैकअप के ल‍िए ए‍क बार डॉक्‍टर से जरुर मिलें। आपका श्‍वसन तंत्र इस जहरीली हवा के खिलाफ मजबूत बना रहें इसल‍िए डॉक्‍टर से सलाह मशविरा जरुर लें ले।

    Most Read : हरे नहीं लाल रंग के फल-सब्जियों को भी डाइट में करें शामिल


  • दवाइयों को लेकर लापरवाही न बरतें

    अगर आप किसी भी प्रकार के श्‍वास संबंधी समस्‍याओं से परेशान है तो आपके ल‍िए सख्‍त चेतावनी है कि प्रदूषण की वजह से विषाक्‍त हो चुकी हवा से आपकी बीमारी के लक्षण बढ़ सकतेहै। इसल‍िए अपना इन्‍हेलर, मास्‍क और जरुरी दवाईयां साथ में रखें। अगर आवश्‍यक हो तो इन्‍हें साथ में जरुर रखें।


  • खूब पानी पीएं

    धुएं की विषाक्‍त हवा से न सिर्फ श्‍वसन तंत्र को नुकसान पहुंचता है बल्कि ये स्किन के लिए भी हानिकारक होती है। इसल‍िए बाहर न‍िकलने से पहले ज्‍यादा से ज्‍यादा पानी पीएं। इसके अलावा बाहर निकलते वक्‍त चेहरे को ढंकना न भूले और चेहरे पर ज्‍यादा से ज्‍यादा मॉइश्‍चराइजर लगाएं, सबसे अहम चीज चेहरे पर सनस्‍क्रीन जरुर लगाएं।




दिवाली में सिर्फ 2 ही दिन बचें है, इससे पहले कि आप पर त्‍योहारी रंग चढ़ने और आप सेल‍िबेशन में पूरी तरह डूब जाएं इस बात को भी दरकिनार न करें कि देशभर में वायु की गुणवत्ता (Air Quality)

का स्‍तर गिरता जा रहा है।

खासतौर पर दिल्‍ली में प्रदूषण का ग्राफ दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है। दीवाली में पटाखों का शोर और धुंए से प्रदूषण का स्‍तर और भी बढ़ सकता है जो कि दिल्‍लीवासियों की सेहत के ल‍िए जहर बन सकता है।

वायु प्रदूषण इस त्‍योहार में उन लोगों के ल‍िए ज्‍यादा खतरनाक है जो पहले से ही सांस संबंधी समस्‍याओं जैसे अस्थमा, एलर्जिक राइनाइटिस और घातक (क्रोनिक ऑब्स्ट्रक्टिव पल्मोनरी रोग) सीओपीडी से जूझ रहे हैं। आइए जानते है कि दीवाली के मौके पर आप कैसे प्रदूषण और स्‍मॉग रहित दीवाली मना सकते हैं। दिल्‍ली में प्रदूषण की हवा में खुल गए धुएं से बचते हुए सुरक्षित रहने के लिए ऐसे सावधानी बरतें।

   
 
स्वास्थ्य