Back
Home » स्‍वास्‍थ्‍य
ठंड से छाती में जम गई कफ, जानिए क्‍या है इलाज
Boldsky | 4th Dec, 2018 04:35 PM
  • शहद और नींबू

    एक चम्‍मच में ऑर्गेनिक शहद और 2 टेबल स्‍पून नींबू का रस मिलाकर पीएं। ये आपके गले को आराम पहुंचाता है और कफ की समस्‍या से दूर रखता है। शहद में एंटीबैक्‍टीरियल और एंटीफंगल गुण पाएं जाते है। नींबू में विटामिन सी की भरपूर मात्रा पाई जाती है। जो आपके गले को तुरंत आराम पहुंचाएगां ।


  • काली मिर्च -

    काली मिर्च हल्की तीखी और स्वाद में कड़वी होती है, यह इसे वातदोष को समाप्त करने के लिए आयुर्वेद में चमत्कारी औषधि मान जाता है। ये कफ (बलगम) को समाप्त कर देती हैं, काली मिर्च में पाइपरलांगमाइन (पीएल) नामक रासायनिक तत्व पाया जाता है इसमें हमारे शरीर में ये एंजाइम के बनने को रोकती हैं। शरीर में बनने वाले एंजाइम खांसी और इसके इन्फेक्शन को बढ़ाते हैं जो कफ का कारण बनता हैं। रोजाना एक कप 20 दानें काले मिर्च के उबाले और फिर इसमें शहद डालकर पी लें।


  • अंगूर का जूस

    अंगूर कई बीमारियों में फायदेमंद होता है, जिसमें हेरोस्टिलवेन नामक पदार्थ पाया जाता है जो एंटीआक्सीडेंट से भरपूर होता है। अंगूर में एक्सपेक्टोरेंट होता हैं जो छाती और फेफड़ों से बलगम निकलने में सहायक होता है। छाती में जमा कफ निकलने के लिए अंगूर के जूस में दो चम्मच शहद मिला कर रोज पिएं। ऐसा करने से कफ निकल जाता हैं। अंगूर के जूस में नमक और काली-मिर्च मिलकर पीने से जल्दी फायदा होता हैं।


  • हाइड्रेड रहे

    कफ होने की स्थिति में हल्‍का गर्म पानी पीएं ये आपके गले में बनने वाली कफ की मात्रा को कम करेगा। नींबू पानी या नींबू की चाय पीकर आप खुद को हाइड्रेड रख सकते हैं।


  • नमक के पानी से गरारे करें

    नमक के पानी से गरारे करने से गले को राहत मिलती है और गले में जमा बलगम साफ होता है इससे गला साफ होता है और गले में मौजूद सभी कीटाणु भी मर जाएंगे।


  • हल्‍दी

    गर्म पानी में एक चम्‍मच हल्‍दी मिलाएं, हल्दी में कुरक्‍यूमिन नामक एक तत्‍व पाया जाता है। इसमें बहुत ही शक्तिशाली एंटीबैक्‍टीरियल गुण पाएं जाते हैं। जो कि कफ को पतला करने में मदद करता है।




ठंड आते ही सर्दी, जुकाम और खांसी होना आम समस्‍या है। इसके अलावा इस मौसम में सबसे ज्‍यादा समस्‍या होती है वो है गले और छाती में बलगम बनने की। बलगम होने से न केवल सांस लेने में तकलीफ होती है बल्कि ये अपने साथ ओर भी बहुत सी परेशानियां लेकर आता है। लोग इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए कई तरह की दवाओं और सिरप का सेवन करते हैं लेकिन इनसे जल्दी फर्क महसूस नहीं होता।

   
 
स्वास्थ्य