Back
Home » स्‍वास्‍थ्‍य
खाने के बीच में पानी पीना सेहत के लिए क्‍यों है हानिकारक
Boldsky | 10th Jun, 2019 02:45 PM
  • शराब और एसिड वाले ड्रिंक्‍स का सलाईवा पर गलत असर

    खाने के साथ शराब और अन्‍य एसिड वाले ड्रिंक्‍स पीने से मुंह में सलाईवा का उत्‍पादन कम होने लगता है। इस वजह से शरीर के लिए भोजन को पचाना मुश्किल हो जाता है। वाइन और बीयर का ऐसा कोई असर नहीं पड़ता है, केवल हार्ड ड्रिंक्‍स ही मुंह में सलाईवा को प्रभावित करती हैं।
    इस तरह के ड्रिंक्‍स में थोड़ा बदलाव करके एल्‍कोहोलिक और एसिडिक ड्रिंक्‍स दोनों ही सेहत को नुकसान नहीं पहुंचाते हैं। इससे अपच और पोषक तत्‍वों के अवशोषण में कमी जैसी कोई दिक्‍कत नहीं आती है।


  • पानी

    ऐसा माना जाता है कि खाने के दौरान पानी पीने से पेट के एसिड और पाचक एंजाइम्‍स में पानी घुल जाता है जिससे शरीर को भोजन पचाने में दिक्‍कत आती है। हालांकि, इस बात के पीछे कोई स्‍पष्‍ट कारण नहीं है।


  • अन्‍य लिक्विड्स

    ऐसा कहा जाता है कि खाने के समय लिक्‍विड्स का सेवन करने से पेट के एसिड और पाचक एंजाइम्‍स प्रभावित होते हैं जिस कारण पाचन खराब होता है। हालांकि, इस बात का भी कोई वैज्ञानिक तथ्‍य मौजूद नहीं है।


  • कुछ मामलों में लिक्विड्स पाचन बेहतर करते हैं

    खाने के साथ लिक्विड्स लेने से भोजन नली से खाना आसानी से पेट के अंदर पहुंच पाता है। इससे पेट फूलने और कब्‍ज से भी राहत मिलती है। उचित पाचन के लिए पानी की जरूरत होती है क्योंकि हमारा पेट भोजन को पचाने के लिए अन्य गैस्ट्रिक रस और पाचक एंजाइमों के साथ पानी को भी स्रावित करता है।


  • पानी से भूख और कैलोरी के सेवन में कमी आती है

    जब आप भोजन के दौरान पानी पीने के लिए ब्रेक लेते हैं जो इससे आपको अपनी भूख का अंदाजा लगाने का मौका मिलता है। इस तरह ओवरईटिंग से बचाव होता है और वजन कम करने में मदद मिलती है।
    12-सप्ताह के एक अध्ययन से पता चलता है कि जिन लोगों ने प्रत्येक भोजन से पहले 500 मि.ली पानी पिया, उन लोगों ने बाकी प्रतिभागियों की तुलना में 2 किलो अधिक वजन कम किया।
    शोध से यह भी पता चलता है कि पानी पीना आपके चयापचय का 24 कैलोरी प्रति 500 मि.ली पानी का उपभोग करता है। इस संदर्भ में इस बात का ध्‍यान जरूर रखें कि यह सब सिर्फ पानी पर लागू होता है और अन्य पेय पदार्थों पर नहीं, जिनमें कैलोरी मौजूद होती है। वास्तव में, भोजन के साथ-साथ शुगर युक्त पेय पीने से कैलोरी का सेवन 8-15 प्रतिशत बढ़ जाता है।


  • भोजन के साथ पानी नहीं पीने से क्‍या होता है

    भोजन के साथ पानी पीने से ज्यादातर लोगों के पाचन पर नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ता है। लेकिन अगर आप गैस्ट्रोइसोफेगल रिफ्लक्स बीमारी (जीईआरडी) से पीड़ित हैं, तो भोजन के साथ तरल पदार्थ आपके लिए अच्छे नहीं है।
    ऐसा इसलिए है क्योंकि तरल पदार्थ पेट पर दबाव को बढ़ा सकते हैं। इससे जीईआरडी से पीड़ित लोगों में एसिड रिफ्लक्स हो सकता है।




ऐसा माना जाता है कि भोजन के साथ पेय पदार्थ या कोई ड्रिंक पीने से पाचन ठीक तरह से होता है जबकि कुछ लोगों का मानना है कि ऐसा करने से कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

क्या आप जानते हैं कि खाने के साथ सोडा या एक गिलास पानी पीना स्वास्थ्य और पाचन के लिए ठीक होता है या नहीं? अगर आप भी खाने के साथ कोई पेय पदार्थ या पानी का सेवन करते हैं तो जान लीजिए कि आपकी ये आदत किस तरह से आपकी सेहत और पाचन तंत्र को प्रभा‍वित करती है।

क्‍या लिक्‍विड से पाचन समस्‍याएं हो सकती हैं

दिनभर पर्याप्‍त मात्रा में पानी और अन्‍य तरल पदार्थों का सेवन करना सेहत के लिए उत्तम रहता है। हालांकि, ऐसा भी दावा किया जाता है कि इस मामले में समय का भी बहुत महत्‍व होता है। भोजन के समय के आसपास और खाने के साथ पेय पदार्थों का सेवन करना गलत होता है।

तीन अलग-अलग प्रकार के ड्रिंक्‍स का सेहत और पाचन पर क्‍या असर पड़ता है:
   
 
स्वास्थ्य