Back
Home » समाचार
इंदौर: बजट सत्र में "जन गण मन" को बीच में रोककर गाया "वंदे मातरम", कन्फ्यूज हो गए सदस्य
Khabar India TV | 12th Jun, 2019 09:20 PM

इंदौर: इंदौर नगर निगम के बजट सम्मेलन के दौरान कुछ लोगों की गफलत के कारण बुधवार को विवाद खड़ा हो गया, जब राष्ट्रगान "जन-गण-मन" का गायन बीच में रोककर अचानक राष्ट्रगीत "वंदे मातरम" गाना शुरू कर दिया। इस वाकये का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है जिसके एक दृश्य में महापौर और स्थानीय भाजपा विधायक मालिनी लक्ष्मणसिंह गौड़ भी दिखाई दे रही हैं। इंदौर नगर निगम पर भाजपा का कब्जा है।

चश्मदीद सूत्रों ने बताया कि नगर निगम के बजट सम्मेलन की शुरुआत के दौरान पार्षदों और अन्य लोगों ने राष्ट्रगान (जन-गण-मन) गाना शुरू कर दिया। वहां उपस्थित अन्य लोगों ने भी इसका समवेत स्वर में अनुसरण शुरू कर दिया। लेकिन गलती का अहसास होते ही निर्वाचित जन प्रतिनिधियों के सम्मेलन में कुछ ही सेकंड बाद "जन-गण-मन" को अधूरा छोड़ दिया गया और अचानक "वंदे मातरम" का गायन शुरू कर दिया गया। फिर इस राष्ट्रगीत को पूरा गाया गया।

बहरहाल, कुछ विपक्षी पार्षदों ने नगर निगम के सम्मेलन में हुई चूक को राष्ट्रगान के अपमान का मामला करार देते हुए दोषी लोगों की पहचान कर उनके खिलाफ उचित कार्रवाई की मांग की है।

इस बारे में पूछे जाने पर नगर निगम के सभापति अजय सिंह नरूका ने कहा, "यह चूक संभवतः किसी पार्षद की जुबान फिसलने से हुई। हालांकि, इस चूक के पीछे मुझे किसी की कोई दुर्भावना प्रतीत नहीं होती। लिहाजा इस मामले को बेवजह तूल नहीं दिया जाना चाहिए।" उन्होंने कहा कि यह पुरानी परंपरा है कि नगर निगम के सत्र की शुरूआत में राष्ट्रगीत "वंदे मातरम" गाया जाता है, जबकि राष्ट्रगान "जन-गण-मन" के गायन के साथ सदन का सत्रावसान होता है।

   
 
स्वास्थ्य