Back
Home » जरा हट के
पड़ोसी कुत्ते से थे ‘ नाजायज संबंध’, मालिक ने 3 साल की पमेरियन को घर से न‍िकाला
Boldsky | 25th Jul, 2019 03:33 PM

केरला में एक माल‍िक ने अपने पालतू पमेर‍ियन डॉग का पड़ोसी कुत्ते के साथ अवैध संबंध रखने पर घर से बाहर न‍िकाल द‍िया। कथित तौर पर ये सफेद रंग का तीन साल का पमेर‍ियन त‍िरुवनंतपुरम के एक पास मशहूर बाजार चकाई के पास पाया गया था।

इसके शरीर पर एक नोट बंधा हुआ मिला जिस पर मलयालयी भाषा में लिखा हुआ था, 'इस कुत्ते को इसल‍िए छोड़ा जा रहा हैं क्‍योंकि इसके पड़ोस के कुत्ते से 'नाजायाज संबंध हैं।' सोशल मीडिया पर इस नोट के वायरल होने के बाद कई लोगों ने कुत्ते के माल‍िक के प्रति अपनी नाराजगी भी जाह‍िर की। एन‍िमल संस्‍था से जुड़े लोगों का मानना है कि मादा कुत्तों को ज्‍यादात्तर लोग इसल‍िए भी छोड़ देते है कि प्रजनन के मौसम के दौरान इन्‍हें सम्‍भालना थोड़ा मुश्किल हो जाता है।

Most Read : नेपाल में क्यों मनाया जाता है डॉग फेस्टिवल, जानें इस अनोखी परम्परा के बारे में

जानें क्‍या ल‍िखा है इस नोट में

इस नोट में माल‍िक ने लिखा है, 'यह एक समझदार और अच्‍छी आदतों वाला कुत्ता हैं। इसे ज्‍यादा खाने की जरुरत नहीं है। ये बिल्‍कुल स्‍वस्‍थ हैं। यह हफ्ते में 5 बार नहाती है। और हां, ये भौंकती है लेकिन किसी को आज तक नहीं काटा है। यह ज्‍यादात्तर दूध, बिस्किट और अंडे ही खाती है। इसे इसल‍िए छोड़ा जा रहा है क्‍योंकि इसका पड़ोस के साथ 'नाजायज संबंध' हैं।

Most Read : दाल-चावल खाने वाले मगरमच्छ की मौत पर खूब रोया पूरा गांव, याद में बनाया जाएगा मंदिर

कुत्तों में भी होता है नाजायज संबंध?

इस मामले के सामने आने के बाद से ही सोशल मीडिया में लोग इस कुत्ते के माल‍िक के प्रति अपनी नाराजगी जाह‍िर कर रहे हैं। 'पीपुल फॉर एन‍िमल' संस्‍था के एक वॉल‍िंटियर को इस घटना की सूचना मिलने के बाद इसे बचाया गया है। कुत्ते के साथ मिले नोट को इस वॉल‍िंटियर ने अपने फेसबुक पेज पर पोस्‍ट भी किया है।

और कैप्‍शन में ल‍िखा, जिस शख्‍स ने भी इस मासूम कुत्ते को छोड़ा है, वो निश्चित ही मानसिक रुप से बीमार है, मैं हैरान हूं कि उसके बच्‍चों की कैसी स्थिती होगी? क्‍या कुत्तों में 'नाजायज संबंध' जैसी कोई चीज होती है? अगर ऐसा होता भी है तो ठीक यह रहता है कि परिवार वाले किसी ज्‍योतिष से बातचीज कर इसका पारम्‍पारिक तरीके से शादी करवा लेते हैं?

   
 
स्वास्थ्य