Back
Home » प्रेगनेंसी-पेरेंटिंग
पति की नींद से घट या बढ़ सकती है पत्नी के गर्भधारण करने की संभावना
Boldsky | 13th Aug, 2019 09:01 AM

गर्भधारण करने के लिए महिलाएं अपनी प्रजनन क्षमता को बढ़ाने पर बहुत काम करती हैं। अलग-अलग खाने की चीजों को आजमाने के साथ-साथ वो भिन्‍न तरह की एक्‍सरसाइज भी ट्राई करती हैं। लेकिन इन सब में क्‍या आप ये जानती हैं कि आपके पार्टनर की नींद भी इस मामले में अहम भूमिका निभाती है। जी हां, हाल ही में एक अध्‍ययन में यह बात सामने आई है कि पत्‍नी की गर्भधारण करने की संभावना पति की नींद से घट या बढ़ सकती है।

क्‍या कहता है अध्‍ययन

बॉस्‍टन यूनिवर्सिटी स्‍कूल ऑफ पब्लिक हेल्‍थ के लॉरेन वाइस और उनके साथी शोधकर्ताओं ने बताया कि जब पुरुष रात को 7 से 8 घंटे की नींद लेते हैं तो उनके शुक्राणुओं का उत्‍पादन और गतिशीलता बढ़ जाती है। 7 से 8 घंटे की नींद सामान्‍य मानी जाती है।

वाइस और उनके साथियों ने 790 कपल्‍स पर रिसर्च की जो कि बच्‍चे के लिए प्‍लानिंग कर रहे थे। इन लोगों से इनके सोने के तरीके और जीवनशैली से संबंधित कुछ सवाल पूछे गए।

एक साल तक शोधकर्ताओं ने इन सभी कपल्‍स का फॉलो-अप लिया और पूछा कि उनकी पत्‍नी ने कितनी जल्‍दी गर्भधारण किया। इसमें पाया गया कि जो पुरुष 6 घंटे से कम या नौ घंटे से ज्‍यादा सोते थे उनके पार्टनर के प्रेगनेंट होने की संभावना 8 घंटे नींद लेने वाले पुरुषों की तुलना में 45 फीसदी कम थी।

वाइस और उनकी टीम ने ये भी नोटिस किया कि जिन पुरुषों को रात में नींद आने में परेशानी थी उनके सफल गर्भनिरोधक की संभावना कम थी।

टेस्‍टोस्‍टेरोन लेवल की वजह से पुरुषों की नींद का असर उनकी पत्‍नी के गर्भधारण पर पड़ता है। हालांकि, इस अध्‍ययन में पुरुषों के टेस्‍टोस्‍टेरोन लेवल की जांच नहीं की गई थी। ये हार्मोन प्रजनन प्रक्रिया में अहम भूमिका निभाता है।

अन्‍य स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी समस्‍याओं का असर भी नींद और प्रजनन क्षमता पर पड़ता है। लेकिन इस स्‍टडी के मुताबिक अगर आप गर्भधारण की सोच रही हैं तो आपको अपनी और अपने पार्टनर दोनों की सेहत का ख्‍यान रखना चाहिए। पर्याप्‍त मात्रा में नींद लेने से आपकी पत्‍नी के गर्भधारण की संभावना बढ़ सकती है।

   
 
स्वास्थ्य