Back
Home » स्‍वास्‍थ्‍य
बप्‍पा के फेवरेट मोदक को खाने से होते हैं ये लाभ, जाने कैसे खाएं
Boldsky | 4th Sep, 2019 06:09 PM
  • इम्‍यून सिस्‍टम को दुरुस्‍त रखें, घी

    मोदक में काफी मात्रा में घी डाला जाता है जो कब्ज की समस्या से राहत दिलाने में मदद करता है। जिससे शरीर से हानिकारक टॉक्सिक एलिमेंट आसानी से बाहर निकल जाते हैं। घी में विटमिन ए, डी, ई और के भरपूर मात्रा में होता है जो हड्डियों, ब्रेन, हार्ट और इम्यून सिस्टम के लिए अच्छा माना जाता है।


  • कब्‍ज की समस्‍या दूर करें, गुड़

    मोदक में चीनी की जगह गुड़ का इस्तेमाल होता है लिहाजा यह पाचन के लिहाज से बेहतर माना जाता है और कब्ज की समस्या दूर करने में मदद करता है। इतना ही नहीं गुड़, एंटीऑक्सिडेंट्स और पोषक तत्वों से भरपूर होता है जो लिवर, आंत और पेट को साफ कर टॉक्सिन्स को शरीर से बाहर करने में मदद करता है।


  • ब्‍लड प्रेशर कंट्रोल करें, नारियल

    मोदक में फिलिंग के तौर पर नारियल को घिसकर डाला जाता है। नारियल भी सेहत के लिए कई तरह से फायदेमंद है। नारियल में मौजूद ट्राईग्लिसराइड्स, न सिर्फ हार्ट के लिए अच्छा माना जाता है बल्कि ब्लड प्रेशर को कम करने और इसे कंट्रोल करने में भी मदद करता है।


  • हेल्दी कोलेस्ट्रॉल

    मोदक में देसी घी और नारियल की गिरी का इस्‍तेमाल किया जाता है। देसी घी और नारियल दोनों ही नेचुरल फैट के स्रोत हैं। नेचुरल फैट से गुड कोलेस्ट्राल बनता है। गुड कोलेस्ट्रॉल से वेट लॉस करने में मदद मिलती है। इसके अलावा मोदक खाने से दिल की बीमारी का खतरा भी कम होता है।


  • डायबिटीज रोगी भी खा सकते है मोदक

    कोई भी त्योहार आए मीठा खाना मना है जिनको उनके लिए खराब दिन होता है। लेकिन मोदक एक ऐसी मिठाई है जिसे डायबिटीज रोगी भी खा सकते हैं।अगर आप मधुमेह के शिकार हैं तब भी मोदक के लड्डू खा सकते हैं।




11 द‍िनों तक चलने वाले गणेश महोत्‍सव में रोजाना गणपति बप्‍पा को खुश करने के ल‍िए अलग-अलग तरह के चढ़ावा चढ़ाए जाते हैं। लेकिन गणेश जी के अति प्रिय मोदक के लड्डू होते हैं।

गणेश फेस्टिवल के दौरान गणेश जी को उनके प्रिय मोदक का भोग जरुर लगाया जाता है। अगर आप कोकोनट और गुड़ के मसाले से भरकर, चावल के आटे में स्टीम करके बनाएंगे तो न केवल ये स्वाद में बेहतरीन लगेंगे, बल्कि सेहत के लिए भी पौष्टिक होंगे। आइए, जानते हैं मोदक खाने के सेहत फायदे -

   
 
स्वास्थ्य