Back
Home » खेल
अपने ही देश की पिचों से खुश नहीं हैं धाकड़ गेंदबाज जेम्स एंडरसन, दिया बड़ा बयान
Khabar India TV | 11th Sep, 2019 03:09 PM

लंदन। दिग्गज तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन का मानना है कि इंग्लैंड में मौजूद पिचें घरेलू टीम के खिलाड़ियों के लिए और अधिक मददगार होनी चाहिए। इंग्लैंड की टीम करीब दो दशक में पहली बार घर में प्रतिशष्ठित एशेज सीरीज को जीतने में कामयाब नहीं हो पाई। इंग्लैंड को मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर हुए चौथे मैच में 185 रनों से करारी हार झेलनी पड़ी जबकि तीसरे मैच में भी मेजबान टीम का प्रदर्शन खराब रहा था।

हालांकि, ऑलराउंडर बेन स्टोक्स के दमदार प्रदर्शन ने इंग्लैंड को सीरीज हारने से बचा लिया।

'क्रिकइंफो' ने एंडरसन के हवाले से बताया, "मैं समझता हूं कि हमारी पिचों ने आस्ट्रेलिया की टीम को ज्यादा मदद पहुंचाई। मैं पिचों पर ज्यादा घास देखना चाहता था क्योंकि यहां इसी तरह की पिचें होती हैं। लैंकशायर में सारी टिकटें बिक रही हों तो आपको फ्लैक पिच बनानी पड़ती है, लेकिन एक खिलाड़ी के लिए यह बहुत दुखद है।"

एंडरसन ने कहा, "आस्ट्रेलिया में हमें जो पिचें देखने को मिलती हैं वो मेजबान टीम के अनुकूल होती है। वे यहां आए और उन्हें वैसी ही पिचें मिली जैसा कि वह चाहते थे। मुझे यह सही नहीं लगता। पिछले साल भारत के खिलाफ हमें सही पिचें मिली। एक देश के रूप में हमें इसका लाभ उठाना चाहिए क्योंकि जब आप आस्ट्रेलिया, भारत या श्रीलंका जाते हैं तो वह अपने मुताबिक पिच बनाते हैं।"

एंडरसन चोट के कारण पहले मैच के बाद ही सीरीज से बाहर हो गए थे। ऑस्ट्रेलिया सीरीज में फिलहाल, 2-1 से आगे चल रही है।

   
 
स्वास्थ्य