Back
Home » जरा हट के
कंडोम नहीं रखने पर दिल्‍ली में कैब ड्राइवरों को कटेगा चालान, जानें क्‍यों फर्स्‍ट एड बॉक्‍स में रखना
Boldsky | 25th Sep, 2019 11:18 AM

देशभर में जब से 'संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट' लागू हुआ है हर दिन चालान कटने के नए और अजीबो गरीब मामले सामने आ रहे हैं। रोज नए वाहन नियमों की वजह से सड़कों पर वाहन चालकों का गाड़ी चलाना मानों दुर्भर हो गया है। ऐसी ही नई आफत द‍िल्‍ली-एनसीआर कैब ड्राइवरों के सिर आ गई है। अब कैब ड्राइवरों को अपनी टैक्‍सी में कंडोम रखकर चलना जरुरी हो गया है। अगर वो ऐसा नहीं करेंगे तो उनका चालान कट जाएगा।

संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट के तहत अब हर चौपाहिया वाहन में फर्स्‍ट एड बॉक्‍स होना बेहद जरुरी है। ये नहीं होने पर चालान कटेगा। इसलिए हर कैब ड्राइवर को 'फ़र्स्ट ऐड बॉक्स' में कंडोम रखने पड़ रहे हैं। इसके पीछे वैसे एक और वजह से जिस वजह से यातायात पुलिस इस ओर ज्‍यादा जोर दे रही है।

Most Read : सेक्‍स से पहले चैक कर लें, कहीं आपका कंडोम एक्‍सपायर तो नहीं हो गया?

इस कारण से रखने पड़ रहे हैं कंडोम

दिल्ली की 'सर्वोदय ड्राइवर एसोसिएशन' के प्रेजिडेंट कमलजीत गिल ने एक इंटरव्‍यू के दौराना बताया, 'सभी सार्वजनिक वाहनों के ड्राइवरों को हर समय कम से कम तीन कंडोम लेकर चलना ज़रूरी है'। इसका इस्तेमाल किसी की हड्डी में चोट आने या फिर कट लगने पर किया जा सकता है। यदि किसी व्यक्ति को ब्लीडिंग होने लगती है तो कंडोम के ज़रिए इसे रोका जा सकता है। इसी तरह फ़्रैक्चर होने की स्थिति में उस जगह पर अस्पताल पहुंचने तक कंडोम बांधा जा सकता है'।

Most Read : बिना कंडोम यूज किए भी आप प्रेगनेंट होने से बच सकती है, जानिए कैसे?

रिपोर्ट्स के मुताबिक, कई कैब चालकों को भी नहीं मालूम कि उन्हें फर्स्ट एड बॉक्स में कंडोम रखना क्यों जरूरी है। ज्‍यादात्तर ड्राइवर सिर्फ चालान से बचने के लिए इसे फर्स्‍ट ऐड बॉक्‍स में रख रह‍े हैं।

   
 
स्वास्थ्य