Back
Home » समाचार
सबसे खौफनाक सीरियल किलर, रेप के बाद करता था मर्डर, 93 महिलाओं को बनाया शिकार
Oneindia | 9th Oct, 2019 05:46 PM
  • इंसान के रूप में राक्षस

    अमेरिका के ओहियो का रहने वाल सैमुअल लिटिल इंसान के रूप में राक्षस है। उसकी उम्र अब 79 साल है। सोमवार को अमेरिका की संघीय जांच एजेंसी, फेडरल ब्यूरो ऑफ इंवेस्टिगेशन ने अपनी लंबी जांच और इकाबलिया बयानों के आधार पर कहा कि सैमुअल लिटिल अमेरिकी इतिहास का सबसे खौफनाक सीरियल किलर है। उसने 1970 से 2005 के बीच 93 मर्डर किये। अमेरिका के 19 राज्यों में घूम-घूम कर उसने अपने शिकार तलाशे। एफबीआइ ने 93 में से करीब 50 महिलाओं के स्केच भी जारी किये हैं जिसे सैमुअल ने अपना शिकार बनाया था। ये स्केच सैमुअल ने जेल में रहने के दौरान खुद बनाये हैं। इनमें अधिकतर महिलाएं गरीब और काले समुदाय की थीं। वह खुद भी गरीब और काले समुदाय से था। उसने अपने लोगों पर भी रहम नहीं किया।


  • मर्डर के बाद सबूत नहीं छोड़ता था सैमुअल

    1970 के दशक में सैमुअल एक मजबूत कदकाठी का नौजवान था। 6 फीट 3 इंच लंबे सैमुअल ने कुछ दिनों तक बॉक्सिंग में भविष्य तलाशने की कोशिश की। लेकिन अनुशासन की कमी और गंदी आदतों की वजह से वह रिंग में टिक न सका। वह ड्रग्स का आदि हो चुका था। नशे की जरूरत को पूरा करने के लिए वह धीरे-धीरे अपराध की दुनिया में दाखिल हो गया। उसकी मजबूत कद-काठी आपराधिक इरादों में मददगार बन गयी। चूंकि वह बॉक्सर था इसलिए वह एक मुक्के में किसी को बेहोश कर देता था। वह इतना मजबूत था कि एक हाथ से ही किसी का गला घोंट देता था। कुछ साल बाद वह महिलाओं को शिकार बनाने लगा। वह अपने शिकार के लिए क्लब, पब, बार, रेस्टोरेंट, डिस्कोथेक के आसपास मंडराने लगा। वह नशे में धुत महिलाओं पर खास नजर रखता। घुलने मिलने के बाद वह महिला को अपनी कार की पिछली सीट पर ले जाता। रेप करने के बाद उनका गला घोंट देता। पुलिस को लाश तो मिलती लेकिन उसे कातिल का सुराग न मिलता।


  • शातिर अपराधी सैमुअल

    सैमुअल इतना शातिर था कि वह अपराध के बाद कोई सबूत नहीं छोड़ता था। जब उस पर 93 महिलाओं की हत्या और रेप का आरोप लगा तो उसने खुद को रेपिस्ट बताये जाने पर एतराज किया। लेकिन 1976 की एक घटना ने उसे बलात्कारी साबित कर दिया था। अमेरिका के मिसौरी राज्य के सेंट लुइस शहर में एक रात पामेला स्मिथ नाम की एक महिला अचानक एक घर का दरवाज पीटते हुए बचाओ-बचाओ चिल्लाने लगी। घर के मालिक ने जब दरवाजा खोला तो देखा कि जान बचाने की गुहार लगाने वाली महिला के कपड़े अस्त-व्यस्त थे। कमर के नीचे कोई कपड़ा नहीं था। उसके हाथ बिजली के तार से बंधे हुए थे। वह बेहद डरी हुई थी। उसने पामेला को आश्रय दिया और पुलिस को खबर की। पामेला ने पुलिस को बताया कि जब वह सड़क पर जा रही थी तब सैमुअल लिटिल नाम के शख्स ने उसे धोखे से उठा लिया था। उसने उसके साथ रेप भी किया लेकिन वह किसी तरह बच कर भाग निकली। पामेला ड्रग एडिक्ट थी। इस मामले में सैमुअल को केवल तीन महीने की ही सजा मिली, वह इसलिए क्यों कि आरोप लगाने महिला नशे की आदी थी।


  • 44 साल बाद फूटा सैमुअल के पाप का घड़ा

    सैमुअल 16 साल की उम्र में पहली बार जेल गया था। वह कानून के दांव पेंच जान गया था। हत्या के मामले में पुलिस उसके खिलाफ ठोस सबूत नहीं जुटा पाती थी। वह अमेरिका के लॉस एंजिल्स, कैलिफोर्निया, मिसौरी, प्लोरिडा समेत 11 राज्यों में 26 बार से अधिक जेल गया, लेकिन सबूतों के अभाव में जल्द छूट जाता था। आखिर ऊंट पहाड़ के नीचे आया। 2012 में जब केंटुकी राज्य में वह गिरफ्तार हुआ तो उसके पाप का घड़ा फूट गया। जेल में डीएनए जांच के बाद पता चला कि उसने 1987 से 1989 के बीच तीन महिलाओं की हत्या की है। 2014 में उसे उम्र कैद की सजा हुई। इसके बाद दो अन्य मामलों में भी उसे उम्र कैद की सजा मिली। सीरियल किलर के रूप में उसने 1970 से आतंक मचाना शुरू किया था और उसे पहली सजा मिली 2014 में। अब करीब 50 साल बाद अमेरिकी जांच एजेंसी एफबीआइ ने सैमुअल को सबसे खौफनाक सीरियल किलर करार दिया है।




नई दिल्ली। दुनिया का सबसे खौफनाक सीरियल किलर। अपनी सनक और हवस के लिए इसने 93 महिलाओं की हत्या कर दी। इस क्रूर हत्यारे को अपने किये पर बिल्कुल अफसोस नहीं । पुलिस जब पूछताछ करती है तो वह हंस-हंस कर बयान देता है। जांच एजेंसी ने सोमवार को खुलासा किया कि इस सीरियल किलर ने 43 महिलाओं की हत्या की बात कबूल कर ली है। इसके अलावा डीएनए टेस्ट में साबित हुआ है कि इसने ही 50 अन्य महिलाओं की हत्या की है। वह महिलाओं से पहले परिचय बढ़ाता, फिर रेप करता और अंत में उनका गला घोंट कर मार देता। वह पूर्व मुक्केबाज था। लेकिन ड्रग और शराब की लत से उसे अपराधी बना दिया। ड्रग के लिए पहले छोटी-मोटी चोरियां कीं। बुरी आदतों की वजह से उसे स्कूल से निकाल दिया गया। वह आवारागर्दी करने लगा। अंत में घर छोड़ कर खानाबदोश बन गया। हत्या के जुर्म में उसे तीन बार उम्र कैद की सजा हुई। फिलहाल वह जेल में उम्र कैद की सजा काट रहा है।

   
 
स्वास्थ्य