Back
Home » स्‍वास्‍थ्‍य
विश्‍व मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य द‍िवस: अंडे और अखरोट खाने से रह सकते है मेंटली फिट, जाने और क्‍या खाएं
Boldsky | 10th Oct, 2019 04:14 PM
  • बैलेंस्‍ड डाइट और फिजिकल एक्टिविटी से दूर करें डिप्रेशन

    बैलेंस्ड डाइट का सेवन करें जिसमें फाइबर, प्रोटीन, हेल्दी फैट, कार्बोहाइड्रेट, विटमिन्स और मिनरल्स सबकुछ होता है। डिप्रेशन जैसी कई समस्याओं को दूर करता है। इसके अलावा

    फिजिकल एक्टिविटी और एक्सरसाइज को डेली रूटीन का हिस्सा बनाएं। खुद को शारीरिक और मानसिक रूप से फिट रखने का यह सबसे अच्छा और आसान तरीका है।


  • हरे पत्ते वाली सब्जियां

    जिन लोगों के खाने में हरी पत्तेदार सब्जियां कम होती हैं वह धीमे-धीमे मानसिक शक्ति में गिरावट का अनुभव करते हैं। हरी पत्तेदार सब्जियों में विटामिन व खनिज पदार्थ होते हैं, आपके मानसिक स्वास्थ्य के लिए बेहतर हैं।


  • ब्रोकोली

    इसमें उच्च मात्रा में पोटेशियम होता है जो मस्तिष्क गतिविधि को बढ़ाता है। आपको मानसिक रूप से तरोताजा बनाता है।


  • दही

    एक दिलचस्प बात है कि दही मानसिक स्वास्थ्य में मदद करता है। दही हमारे पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने के लिए जाना जाता है। यह बदले में हमारे दिमाग के कुछ कार्यों जैसे भावनाओं को प्रभावित करता है। इसलिए दही खाने से आप तनाव मुक्त रहते हैं।


  • फल

    सेब , केले , अनार या फिर मौसमी फल को अपने आहार का अहम हिस्सा बनाएं। फलों को जूस या फिर रायता बनाकर भी खा सकते हैं। फलों में कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो मानसिक विकास में मदद करते हैं।


  • अंडे

    अंडों में कुछ पोषक तत्व होते हैं जो मानसिक स्वास्थ्य में सुधार करते हैं। मस्तिष्क की कोशिकाओं और नसों के अच्छे मस्तिष्क स्वास्थ्य और विकास के लिए इसमें मौजूद फोलिक एसिड, बायोटिन और कोलिन की बहुत जरूरत है। अंडे अपने आहार में शामिल करें।


  • अखरोट

    रोजाना मुट्ठीभर अखरोट खाने से आप मैंटेली फिट रहते हैं। अखरोट पूरी तरह से एंटीऑक्‍सीडेंट से भरपूर होते हैं। इसे डाइट में शामिल करने से ये मस्तिष्क और शरीर में ऑक्सीकरण को रोकने में मदद करता है। इसके अलावा ये नट्स मस्तिष्‍क में नए न्यूरोंस को भी बढ़ाते हैं। जिसका मतलब है क‍ि इसके सेवन से आपके मस्तिष्‍क की कोशिकाएं बढ़ती है जो आपको मैंटेली फिट रखता है।




हर साल 10 अक्टूबर को विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस (World Mental Health Day 2019) मनाया जाता है। इसका मकसद होता है लोगों में मानसिक स्वास्थ्य के प्रति जागरुकता पैदा करना। WHO के आंकड़ों की मानें तो दुनियाभर में हर 40 सेकंड में 1 व्यक्ति आत्महत्या करता है। इस हिसाब से आत्महत्या की वजह से हर साल करीब 8 लाख लोगों की मौत हो जाती है। मानसिक बीमारी, डिप्रेशन, एंग्जाइटी बहुत सारी वजहें होती हैं जो इंसान को आत्महत्या करने के लिए मजबूर करती हैं। डिप्रेशन और एंग्‍जाइटी से बचने के ल‍िए खुद को मेंटली फिट रखना बहुत जरुरी हैं।

मानसिक बीमारियों से बचाव के लिए जरूरी है कि आप अपनी जीवन शैली में बदलाव लाएं। पर्याप्त नींद ले, समय पर आराम करें और उचित भोजन करें। मानसिक रोग के शिकार बहुत-से लोग इलाज करवाने से कतराते हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि लोग उनके बारे में न जाने क्या सोचेंगे। आज World Mental Health Day 2019 है तो इस मौके पर जानते हैं क‍ि कैसे आप खुद को मैंटली फिट रख सकते हैं।

   
 
स्वास्थ्य