Back
Home » स्‍वास्‍थ्‍य
डायबिटीज के पेशेंट दिवाली पर खा सकते हैं ये मिठाई, नहीं बढ़ेगा शुगर
Boldsky | 21st Oct, 2019 06:06 PM
  • घर की बनी मिठाई खाएं

    डायटिशियन रुजुता के मताबिक घर में बनी हुई मिठाई हेल्थ के लिए अच्छी होती है। लेकिन आप बाहर का मिठाई खाते हैं तो यह आपके लिए खतरनाक साबित हो सकती है। आप घर की बनी मिठाई आराम से खा सकते हैं। घर की बनी मिठाई में काफी कुछ होता है जैसे घी, नारियल, नट, मिलेट्स जैसी अच्छी चीजें होती है जो आपके हेल्थ के लिए खतरनाक नहीं होती।


  • पनीर, छेना को स्टीविया के साथ खाएं

    दीपावली पर पकवान से बिल्कुल पहरेज न करें, लेकिन इनकी मात्रा और आप जो भी खा रहे हैं उसमें कहीं आप ज्यादा केलोरी तो नहीं ले रहे, इस बात का विशेष ध्यान रखें। छेना, पनीर और मावा की बनी घर की मिठाई खाएं। इसमें आप चाहें तो स्टीविया की पत्तियों से बनी चीनी यूज करें।


  • शुगर-फ्री लड्डू

    आजकल विक्रेता और ई-कॉमर्स कंपनियों के पास कई ऐसे विकल्प उपलब्ध हैं, जिसमें चीनी बिल्कुल नहीं होती और खाने में भी यह मिठाई बेहद स्वादिष्ट होती है।


  • अंजीर बर्फी

    अंजीर सेहत के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। यह पाचन में सुधार करने के साथ मधुमेह को भी निंयत्रित रखने में मदद करता है। अंजीर से बनी बर्फी में रिफाइंड शुगर बिल्कुल नहीं होती। यह मिठाई काजू, बादाम, पिस्ता, अंजीर, घी और शहद से बनाई जाती है, जो बच्चों और बड़ों दोनों के स्वाद के साथ सेहत का भी ध्यान रखती है।


  • फिनी

    फिनी एक पारंपरिक राजस्थानी मिठाई है। यह मुख्य रूप से राजस्थान के बीकानेर में मिलती है। आटे, चीनी और शुद्ध घी से बनने वाली यह मिठाई आजकल शहद से तैयार की जाती है। जो बिल्कुल शुगर-फ्री होती है।


  • फल भी खा सकते हैं

    अनानास, सेब, अनार इनको खाएं। ये आपकी मिठास की तलब को शांत भी करेंगे और सेहत भी चकाचक बनाएंगें।


  • दवा लेने न भूलें

    पकवान और मिठाईयों के दौर में अपनी दवाईयों को बिल्कुल न भूलें। सही समय पर दवाएं लें और हेल्दी फैट व ओमेगा 3 वाली चीजें जैसे - अलसी, ग्रीन सलाद, बादाम और अखरोट आदि का सेवन कीजिए। इसके अलावा शुगर लेवल को नियंत्रित करने के लिए करेले का जूस का सेवन जरुर करें।


  • एक्सरसाइज भी जरूरी

    कई बार डायबिटीज का मरीज फेस्टिवल में इतना बिजी हो जाता है कि व्यायाम करना भूल जाता है। डायबिटीज के मरीज को नियमित रूप से व्यायाम करना चाहिए। नि‍यमित तौर पर एक्सासाइज करना केलोरी बर्न करने में भी सहायक होगा और शुगर लेवल को भी नियंत्रित रखेगा इसलिए इसमें कोताही न करें।




दीवाली की रौनक जितनी रोशनी की जगमगाहट से होती है, उतना ही त्‍योहार में मिठास भरने का काम मिठाईयां करती है। बिना मिठाईयों के त्‍योहार की कल्‍पना भी नहीं की जा सकती हैं। जब तक दीवाली पर मुंह मीठा नहीं होता है तो त्‍योहार का मजा फीका ही रह जाता है।

दिवाली पर सबसे ज्यादा टेंशन डायबिटीज वालों की होती है। फेस्टिवल की डिशेज़ देखकर मुंह में पानी आना तो लाजिमी हैं। इस चटोरी जीभ पर कंट्रोल करना थोड़ा मुश्किल सा हो जाता है। अगर आपके घर में भी कोई डायबिटीज का मरीज है तो टेंशन न लें। यहां हम कुछ टिप्स दे रहे जिसे फॉलो कर आप हेल्दी और टेस्टी दिवाली मना सकेंगे।

   
 
स्वास्थ्य