Back
Home » स्‍वास्‍थ्‍य
सिर्फ फायदा ही नहीं करती है अजवायन, ज्‍यादा मात्रा में खाने से हो सकते हैं ये भंयकर नुकसान
Boldsky | 6th Nov, 2019 11:19 AM
  • मुंह के छाले होने पर

    ज़्यादा अजवायन खाने से माउथ अल्सर या मुंह के छालों की समस्या हो सकती है। दरअसल अजवायन खाने से शरीर में गर्मी पैदा होती है, यह गर्मी मुंह में छाले और सीने में जलन भी बढ़ाती है।


  • एसिडिटी होने पर

    एसिडिटी, ऐसी समस्या है जिससे राहत पाने के लिए लोग अजवायन का सेवन करते हैं। लेकिन ज़्यादा अजवायन खाने से एसिडिटी बढ़ जाती है। हायपर एसिडिटी से परेशान लोगों को उल्टी, ब्लोटिंग और सिर दर्द जैसी परेशानियां होती है।


  • हार्ट रेट पर पड़ता है असर

    हाइपर टेंशन या हाई ब्लड प्रेशर वालों को भी भोजन में अजवायन शामिल करने की सलाह दी जाती है। लेकिन अगर इसे सीमित मात्रा में ना लिया गया तो इससे फायदे की बजाय नुकसान होगा। विभिन्न स्टडीज़ में यह बात कही गयी है कि अजवायन का अधिक सेवन हार्ट रेट पर असर करती है। इससे हार्ट रेट कम हो सकती है।


  • सीमित मात्रा में खाएं अजवाइन

    अजवाइन का ज्‍यादा सेवन करना आपकी सेहत के ल‍िए हान‍िकारक हो सकता है। दिन में कम से कम 10 ग्राम तक ही अजवाइन का सेवन करें। इससे ज्यादा मात्रा में अजवाइन खाने से आपकी सेहत को फायदा की जगह नुकसान हो सकता है।


  • इन बातों का रखें ध्‍यान

    - हमेशा ताजी अजवाइन को ही उपयोग में लाना चाहिए, क्योंकि पुरानी हो जाने पर इसका तैलीय अंश खत्म हो जाता। अजवायन का तैलीय अंश के खत्म होने से इसका पूरा फायदा नहीं मिलता है।

    - अजवाइन को पानी में डालकर उबाल लें। फिर उस पानी को छानकर पियें या गुड़ के साथ भी इसको ले सकते हैं।




पेट दर्द होते ही घर के बड़े-बुजुर्ग अजवायन की फांकी मारने की सलाह देते हैं। अजवायन का इस्‍तेमाल हमारे देश में बहुतायत में क‍िया जाता है। चाय के साथ अजवायन के पराठे हो या आलू की सब्‍जी के साथ अजवायन की पुड़ियां, हमारे देश में अजवायन मसाले के तौर पर मुख्‍य तौर पर इस्‍तेमाल किया जाता है।

पेट दर्द के अलावा, गैस और एसिडिटी होने पर भी अजवायन का पाउडर, अजवायन का पानी और अजवायन की हरी पत्तियां खाने से फायदा होता है। ये तो हो गई अजवाइन खाने के फायदे की बात लेकिन अजवायन साइड-इफेक्ट्स के बारे में जानते हैं आप? जी हां, हर चीज़ की तरह अजवायन भी एक निश्चित मात्रा में ही खाया जा सकता है, वरना इसे अधिक खाने पर ये नुकसान भी हो सकता है।

   
 
स्वास्थ्य