Back
Home » खेल
Exclusive| ऋषभ पंत को विकेटकीपिंग में अभी भी 'बॉडी बैलेंस' पर करना होगा काम पूर्व विकेटकीपर अजय रात्रा
Khabar India TV | 9th Nov, 2019 08:03 AM

टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत जबसे टीम इंडिया में शामिल हुए हैं तबसे वो चर्चा का विषय बने रहते हैं। फिर चाहे बल्लेबाजी हो या विकेटकीपिंग ऋषभ पंत की गलतियाँ दिन प्रति दिन कम होने के बजाए बढती जा रही है। हालांकि इसके बावजूद टीम मैनेजमेंट, क्रिकेट दिग्गजों और पंडितों का उन्हें भरपूर साथ मिला रहा है। ऐसा माना जा रहा है कि युवा शक्ति से लबरेज पंत कहीं ना कहीं अभी परिपक्व नहीं हो पाए हैं और उत्सुकता के चलते वो गलतियाँ कर बैठते हैं। कुछ ऐसा ही मानना है राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में विकेटकीपिंग की ट्रेनिंग देने वाले भारत के पूर्व विकेटकीपर अजय रात्रा का, जिन्होंने इंडिया टी.वी. से हुई बातचीत में बताया कि पंत को थोडा उत्सुकता पर ध्यान देना होगा। 

पिछले कुछ समय से गैरजिम्मेदाराना बल्लेबाजी के बाद ऋषभ पंत की विकेटकीपिंग में भी खामियां निकलकर सामने आई हैं। बांग्लादेश के खिलाफ हाल ही में खेले गए दूसरे टी20 मैच में ऋषभ पंत ने कीपिंग के दौरान एक बड़ी गलती की जिसके चलते भारत को विकेट तो दूर बल्कि नो बॉल से खामियाजा भुगतना पड़ा। इतना ही नहीं दोबारा भी वो इसी तरह की गलती का शिकार होने से बचे। 

दरअसल, दूसरे टी20 मैच में पारी के छठे और चहल के पहले ओवर की तीसरी गेंद पर सलामी बल्लेबाज लिटन ने क्रीज से निकलकर जोरदार शॉट मारने का प्रयास किया। हालांकि वो गेंद को पढने में विफल रहे और गेंद पंत के दस्तानों में समां गई और उन्होंने जब तक लिटन क्रीज पर आते पंत ने झट से स्टंपिंग कर दी। जिसके बाद इस विकेट को थर्ड अम्पायर ने एक बार चेक करने की कोशिश की तो स्टंपिंग करते समय ऋषभ पंत के ग्लव्स स्टंप्स के उपर थे। जो की नियमों के अनुसार गलत थे, जिसके चलते बल्लेबाज को नॉट आउट करार दिए जाने के साथ-साथ गेंद को भी नो बॉल ठहराया गया। 

ऐसे में पंत की इस गलती के बारें में पूर्व विकेटकीपर रात्रा ने कहा, "अगर आप पूरी घटना को देखेंगे तो पाएंगे ऋषभ पंत इसमें आराम से भी स्टंपिंग कर सकते थे। मगर कभी-कभी विकेटकीपर जब देख लेता है की बल्लेबाज क्रीज से बाहर जा चुका है तो वो जल्द से जल्द आउट करने की उत्सुकता में आ जाता है। यही पंत के साथ हुआ वो उत्सुकता में अपने हाथ आगे ले गए और वो स्टंप्स के उपर से गेंद पकड बैठे। जिसके चलते नो बॉल मिली।"

इतना ही नहीं रात्रा से जब यह पूछा गया की क्या वो कीपिंग करते समय स्टंप्स के ज्यादा नजदीक खडें हो रहे हैं तो इस पर उन्होंने कहा, "पंत के कीपिंग स्टांस की अगर बात करें तो वो सही है। मुझे नहीं लगता की इसमें ज्यादा बदलाव करना चाहिए। एक बार हाथ आगे चला गया तो लोगो को लग रहा है की वो काफी आगे स्टांस ले रहा है। ऐसा कुछ नहीं है।"

बांग्लादेश के खिलाफ ऋषभ पंत की इस गलती का भारत को ज्याद खामियाजा नहीं भुगतना पड़ा और टीम मैच जीतने में कामयाब रही। मगर पंत ने सुधार नहीं किया तो भारत को किसी दिन लेने के देने भी पड़ सकते हैं। ऐसे में जब राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में रिद्धिमान साहा और पंत जैसे विकेटकीपरों के साथ कम कर चुके रात्रा ने कहा, "पंत को अगर ऐसी गलतियों से बचना है तो थोडा सा गंभीर होना पड़ेगा। इतना ही नहीं अगर वो विकेटकीपिंग करते समय बॉडी बैलेंस पर काम करते हैं तो ऐसी गेंदों को पकड़ना उनके लिए आसान हो जाएगा। इतना ही नहीं स्टंपिंग में फिर शायद ऐसी गलती भी नहीं दिखाई देगी।"

Ajay Ratra

Ajay Ratra

वहीं अंत में रात्रा ने पंत की कीपिंग के बारे में कहा, " ऋषभ ने जबसे टीम इंडिया में कदम रखा है उनकी कीपिंग में लगातार सुधार हुआ है। उन्होने इंग्लैंड में भी कीपिंग की है। मेरे सामने उन्होंने खुद की कीपिंग में काफी सुधार किया है। धोनी को अगर आप शुरूआती दिनों में देखेंगे तो उनकी भी कीपिंग थोडा कमज़ोर थी। लेकिन वो समय के साथ-साथ इस कला में माहिर हो गए। ऐसे में पंत को भी थोडा समय देना चाहिए उनके अंदर काफी प्रतिभा है। मुझे उम्मीद है कि वो जल्द ही निखरकर सामने आएंगे।"

बता दें कि टीम इंडिया में विश्वकप 2019 के बाद से जबसे महेंद्र सिंह धोनी ने खुद को क्रिकेट से दूर कर रखा है। उसके बाद से चयनकर्ताओं ने ऋषभ पंत को ही अपनी पहली पसंद बताया है। इतना ही नहीं उनके उपर टीम इंडिया के मैनेजमेंट ने काफी भरोसा भी जताया है। ऐसे में हम उम्मीद करते हैं की ऋषभ जल्द ही अपनी बल्लेबाजी और कीपिंग की अदाओं से अपने आलोचकों को जवाब देकर टीम इंडिया में अपना स्थान सुनिश्चित करेंगे।  

   
 
स्वास्थ्य