Back
Home » स्‍वास्‍थ्‍य
महिलाओं को नहीं लेनी पड़ेगी गोलियां, पुरुषों के लिए तैयार हुआ गर्भनिरोधक इंजेक्शन
Boldsky | 22nd Nov, 2019 10:06 AM
  • कब तक रहेगा बर्थ कंट्रोल इंजेक्शन का असर

    यह इंजेक्शन पुरुषों के पेट और जांघ के बीच ग्रोइन एरिया में लगाया जाएगा। यह इंजेक्शन लोकल ऐनस्थीसिया के साथ दिया जाएगा। आपको बता दें कि इस इंजेक्शन का क्लिनिकल ट्रायल कामयाब रहा है। इस इंजेक्शन का असर 13 सालों तक रहेगा। इस इंजेक्शन को तैयार करने का मकसद पुरुषों की नसबंदी के पुराने तरीकों को रोकना है।


  • भारतीय वैज्ञानिकों ने तैयार किया ये इंजेक्शन

    इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के वैज्ञानिकों को मेल कॉन्ट्रसेप्टिव इंजेक्शन को तैयार करने का श्रेय दिया जाता है। इस इंजेक्शन का तीन राउंड का क्लीनिकल ट्रायल पूर्ण रूप से सफल रहा। वैज्ञानिकों के मुताबिक इसके ट्रायल के दौरान 300 लोगों को शामिल किया गया और उनमें किसी भी तरह का साइड इफेक्ट देखने को नहीं मिला।


  • क्लीनिकल ट्रायल का सक्सेस रेट रहा 97%

    इस शोध में शामिल रहे आईसीएमआर के सीनियर वैज्ञानिक डॉ आर एस शर्मा के मुताबिक इस इंजेक्शन का सक्सेस रेट 97.3% था। इंजेक्शन को अभी भारतीय रेग्युलेटरी बॉडी से हरी झंडी मिलने का इंतजार है। इस प्रक्रिया में करीब 6 से 7 महीने का समय लग सकता है। यह इंजेक्शन भारत ही नहीं बल्कि दुनिया का पहला पुरुष गर्भनिरोधक होगा जो नसबंदी का बेहतर विकल्प है।




आमतौर पर गर्भनिरोधक उपायों के बारे में जानने और उन्हें अपनाने की जिम्मेदारी महिलाओं पर होती है। महिलाओं को प्रेगनेंसी रोकने के लिए गर्भनिरोधक गोलियां, कॉन्ट्रैसेप्टिव रिंग, आईयूडी यानी इंट्रायूट्राइन डिवाइस या कई बार इमरजेंसी कॉन्ट्रसेप्टिव पिल लेनी पड़ती है। अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए पुरुष केवल कॉन्डम का ही विकल्प अपना सकते हैं। लेकिन अब उनके पास एक और ऑप्शन आ गया है। जी हां, पुरुषों के लिए गर्भनिरोधक इंजेक्शन तैयार किया गया है।

   
 
स्वास्थ्य