Back
Home » स्‍वास्‍थ्‍य
अर्थराइट‍िस है तो इन चीजों को कभी भी न लगाएं हाथ, बढ़ सकती है बीमारी
Boldsky | 23rd Nov, 2019 04:30 PM
  • गेहूं और ग्लूटेन खाने से बचें-

    अगर आप अर्थराइटिस से पीड़ित हैं तो गेहूं से बने खाद्य पदार्थों को अपने आहार में शामिल न करें। क्योंकि इसके इस्तेमाल से आपके शरीर में सूजन बढ़ जाएगी। कई लोगों के आंतों से विषैले तत्व खून में जाकर मिल जाते हैं और इससे इम्‍यून‍िटी पर भी फर्क पड़ता है और इससे शरीर में सूजन बढ़ती है।


  • डेयरी प्रोडक्ट से भी रहें दूर

    डेयरी प्रोडक्ट में कैसिन नाम का एक प्रोटीन होता है। जो शरीर में सूजन बढ़ाने का जिम्मेदार होता है। कई स्टडी रिपोर्ट ये बताती हैं कि इस प्रोटीन की वजह से जोड़ों के आसपास के टिश्यू पर इसका असर पड़ता है और इससे जोड़ों में दर्द और सूजन बढ़ती है।


  • कॉर्न ऑयल भी बढ़ाता है तकलीफ-

    कॉर्न ऑयल में ओमेगा-6 फैटी एसिड होते हैं। ऐसे में जिस भी खाद्य पदार्थ में अच्छी मात्रा में ओमेगा-6 फैटी एसिड होते हैं वो शरीर में ओमेगा-3 के संतुलन को बिगाड़ देता है। इससे शरीर में सूजन बढ़ जाती है। कॉर्न ऑयल के अलावा केनोला, सोयाबीन, सूरजमुखी के तेल में ये कमियां पाई जातीं हैं। जो शरीर को नुकसान पहुंचाती है।


  • तले और प्रोसेस्ड फूड से करें तौबा-

    2009 में जर्नल ऑफ क्लीनिकल एंडोक्राइनोलॉजी एंड मेटाबॉलिज्म में छपी रिपोर्ट की मानें तो तले खाद्य पदार्थों में एक तरह का टॉक्सिन पाया जाता है। ग्लाइसेटेशन की वजह से बॉडी सेल्स में ऑक्सीडेशन बढ़ जाता है, जो सूजन को धीरे-धीरे बढ़ा देता है। ऐसे में अपने आहार से अगर आप तली चीजों को दूर कर देंगे तो आपको अर्थराइटिस में काफी आराम मिलेगा।


  • ज्यादा नमक न खाएं-

    स्वाद बढ़ाने वाले नमक मात्रा बढ़ने से शरीर में पानी का संतुलन बिगड़ जाता है। जिससे आपकी रक्त वाहिकाओं पर दबाव बढ़ जाता है। इसके बढ़ने से अर्थराइटिस में होने वाला दर्द औऱ सूजन भी बढ़ जाती है। ऐसे में अपने खाने में सोडियम की मात्रा नियंत्रित रखकर आप शरीर के इलेक्ट्रोलाइट लेवल को स्थिर रख सकते हैं। जो आपके दर्द को कम कर देगा।


  • चीनी से बनाएं दूरी-

    रिसर्च की मानें तो प्रोसेस्ड शुगर शरीर में सूजन बढ़ाने वाले साइटोकिन्स को सक्रिय कर देता है। ऐसे में ये आपके शरीर का दर्द बढ़ा देता है। ऐसे में अर्थराइटिस के मरीजों को पेस्ट्रीज, कैंडी बार, प्रोसेस्ड फ्रूट जूस से तौबा करनी पड़ेगी। नहीं तो स्वाद के चक्कर में आपका दर्द बढ़ जाएगा।


  • शराब से रहें दूर-

    शराब और तंबाखू की वजह से कई तरह के अर्थराइटिस होते हैं। शराब का लीवर पर असर पड़ता है। शराब के ज्यादा सेवन से लीवर कमजोर हो जाता है और इससे दूसरे अंग भी धीरे-धीरे काम करना बंद कर देते हैं और ये शरीर में सूजन बढ़ा देता है।


  • कैफीन का सेवन न करें

    कैफीन शरीर को डीहाइड्रेट बनाता है जो दर्द को बढा सकता है. साथ ही यह शरीर के जरुरी पोषक तत्‍वों को भी सोख लेती है जिससे और भी दर्द हो सकता है।




गठ‍िया (अर्थराइट‍िस) एक ऐसी स्थिति है तो जोड़ों में सूजन का कारण बनती है। अर्थराइट‍िस (Arthritis) के विभिन्‍न प्रकार होते हैं। वृद्ध लोगों में यह समस्‍या बहुत आम होती है, लेक‍िन युवाओं में भी आजकल ये बीमारी देखी जा रही हैं। अर्थराइटिस की बीमारी होने पर खानपान का खास ख्‍याल रखना होता है। अर्थराइटिस होने पर इस बीमारी से पीड़ित लोगों को मालूम होना चाह‍िए क‍ि उन्‍हें क‍िन चीजों को खाने से परहेज करना चाह‍िए, वरना ये बीमारी बढ़ सकती है।

   
 
स्वास्थ्य