Back
Home » स्‍वास्‍थ्‍य
घंटों रजाई में बिताने के बाद भी पांव रहते हैं ठंडे, जानें इनकी वजह और उपाय
Boldsky | 6th Jan, 2020 03:58 PM
  • आखिर क्यों होता है ऐसा?

    हमारे हाथ और पैर तब ठंडे पड़ जाते हैं जब उन्हें पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं मिल पाता या फिर रक्त की आपूर्ति नहीं हो पाती। ऐसा खराब ब्लड सर्कुलेशन के कारण हो सकता है। कभी-कभी हमें एनीमिया, पैरों में लगातार दर्द, क्रॉनिक फैटिग सिंड्रोम, नसों की क्षति, डायबिटीज, हाइपोथायराइडिज्म जैसी स्वास्थ्य समस्याओं के कारण जरूरत से ज्यादा ठंड भी लगती है। अगर आपको हमेशा दूसरों से ज्यादा ठंड लगती है या फिर आपके हाथ-पैर गर्म रजाई में रहने के बावजूद ठंडे रहते हैं तो आपको तुरंत डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।
    हालांकि आप कुछ घरेलू नुस्खे आजमाकर भी इस समस्‍या से न‍िजात पा सकते हैं।


  • गर्म तेल से करें मालिश

    मसाज करना आपके हाथ और पैरों को गर्म करने का सबसे आसान तरीका होता है। पैरों और हाथ को रगड़ने से रक्त प्रवाह सही होता है और ऑक्सीजन की आपूर्ति होती है।


  • हाइड्रेड रहें

    सर्दियों में शरीर में पानी की कमी न होने दें। पुरे दिन में कम से कम 2 लीटर पानी का सेवन करें। बेहतर होगा यदि आप पानी हल्का गुनगुना करके ही पियें। कैफीन के ज्‍यादा सेवन से बचे और सब्जियों के सूप और ग्रीन टी का सेवन करें। ये आपका स्वास्थ्य अच्छा रखने में मदद करेंगे।


  • नमक के पानी से नहाएं

    गर्म पानी में नमक डालिए और अपने पैरों और हाथ को उसमें डालें। पानी की गर्माहट आपके पैरों को गर्म प्रभाव देगा और सॉल्ट आपके शरीर को मैग्निशियम प्रदान करेगा। इससे आपके हाथ-पैर जल्दी गर्म होंगे।


  • आयरन युक्त फूड का करें सेवन

    सर्दियों में शरीर को गर्मी देने के लिए आयरन बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। शरीर में आयरन की कमी के कारण कपकपी छूटती है जिससे और अधिक ठंड लगती है। इसकी पूर्ति के लिए हरि पत्तेदार सब्जियों का सेवन करें।
    एनीमिया से लड़ने के लिए, अपने रोजमर्रा की डाइट में खजूर, सोयाबीन, पालक, सेब, सूखे खुबानी, जैतून और चुकंदर जैसे आयरन युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन जरूर करें। इनमे मौजूद आयरन सर्दियों में आपके स्वास्थ्य का ध्यान रखने में मदद करेगा। इसके अलावा आयरन थाइराइड ग्रन्थि के स्त्राव को भीं सन्तुलित करता है।


  • टाइट कपड़े पहनने से बचें

    ठंड से बचने के ल‍िए बहुत सारे और टाइट कपड़े न पहने। क्योकि ये ऊपर से तो हमें सर्द हवाओं से बचाते है लेकिन अंदर से ब्‍लड सर्कुलेशन को बाधित करते है। इसीलिए इस स्थिति से बचे। आपको ठंड लगती है तो आप हैवी कपड़े पहन सकते है।




कड़कड़ाती सर्द मौसम में लोग ठंड से बचने के ल‍िए रजाई और कंबल में घुस जाते हैं ताकि उन्हें गर्मी का अहसास मिलता रहे। एक बार रजाई में घुसने के बाद लोग कोशिश करते हैं कि अपनी रजाई से बाहर न निकलें। क्‍योंकि एक बार हाथ पैर गर्म हो जाए तो लोगों को ठंड में न‍िकलने में समस्‍या होती हैं। लेक‍िन कुछ लोगों के हाथ-पैर घंटों रजाई में बैठे रहने के बाद भी ठंडे रहते हैं। क्या आपके साथ भी ऐसा ही होता है? आइए आपको बताते हैं ऐसा क्यों होता है और आप इस स्थिति में क्या-क्या कर सकते हैं।

   
 
स्वास्थ्य