Back
Home » स्‍वास्‍थ्‍य
सिर्फ बालों और हाथों पर रंग नहीं लाती है मेहंदी, पानी में मिलाकर पीने से दूर होती है स्किन प्रॉब्‍लम
Boldsky | 7th Feb, 2020 03:59 PM
  • डैंड्रफ से दिलाए छुटकारा

    मेहंदी से स्कैल्प में होने वाली खुजली की समस्या दूर होती है। मेहंदी में नींबू और दही मिलाकर बालों में लगाएं। इन दोनों ही चीजों में एसिडिक होते हैं, जो खुजली, रूसी जैसी परेशानियों से छुटकारा दिलाते हैं। सप्ताह में 1 बार बालों में मेहंदी जरूर लगाएं।


  • त्वचा संबंधित समस्याओं से दिलाए छुटकारा

    मेहंदी में अधिक मात्रा में टैनिन और हेनोटैनिक एसिड होता है। ये दोनों ही तत्व त्वचा पर जमी मृत कोशिकाओं को खत्म कर देता है। त्वचा संबंधित किसी भी तरह की समस्याओं से बचने के लिए मेहंदी के पेड़ की छाल का काढ़ा बनाकर पिएं। जब इस काढ़ा का सेवन करें, तो चेहरे पर साबुन का इस्तेमाल ना करें।


  • किडनी में ना बनने दे स्टोन

    मेहंदी में मैलिक एसिड होने के कारण यह किडनी में स्टोन नहीं बनने देता है। आधे लीटर पानी में 50 ग्राम मेहंदी के पत्तों को पीसकर मिला दें। अब इसे उबाल लें। जब उबल जाए तो छान कर इसे पिएं। ऐसा करने से किडनी की बीमारियां ठीक होंगी। स्टोन की समस्या भी नहीं होगी। इस काढ़े को 1 महीने तक पिएंगे, तो ही लाभ होगा।


  • दर्द और सूजन से राहत

    मेहंदी की तासीर ठंडी होती है, तो इसे दर्द, जलन या फिर सूजन होने पर लगाने से आराम मिलता है। इसकी पत्तियों को पीस लें और सूजन या दर्द वाली जगह पर लगा लें।


  • लू से बचाएं

    मेहंदी की पत्ती ठंडी होने के कारण शरीर की गर्मी को दूर करती है। गर्मियों में लू से बचने के लिए आप इसका लेप तलवों में लगा सकते हैं।


  • पेट की बीमारी दूर करें

    इसमें कुछ ऐसे तत्व मौजूद होते हैं, जो पेट की बीमारियों से आपको बचाए रखते हैं। पीलिया होने पर भी आप मेहंदी का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसका सेवन करने से शरीर में कोई भी साइड इफेक्ट नहीं होता है।




ज्‍यादात्तर लोग मेहंदी के आकर्षक और गहरे रंग की वजह से इसे हाथों में लगाने के अलावा सिर पर लगाते हैं। लेकिन क्या आप जानती हैं कि मेहंदी बालों और हाथों की खूबसूरती बढ़ाने के साथ-साथ कई बीमारियों के ल‍िए औषधि की तरह काम करती हैं। मेहंदी के पत्तों में टैनिन, वासोन, मैलिक एसिड, ग्लूकोज, मैलिटोल और म्यूसिलेज जैसे तत्व पाए जाते हैं। जानें, मेहंदी किन समस्याओं में असरदार होती है।

   
 
स्वास्थ्य