Back
Home » जरा हट के
Coronavirus: लॉकडाउन के वजह से 95 प्रतिशत बढ़ा पॉर्न वेबसाइट्स का ट्रैफिक
Boldsky | 7th Apr, 2020 10:06 AM

चीन से फैले कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। जहां एक तरफ पूरे विश्व को इस वायरस से काफी नुकसान हुआ है लेकिन इसी बीच एक इंडस्ट्री निकलकर सामने आई है जिसको इससे काफी मुनाफा हुआ है। ये कोई और नहीं बल्कि पॉर्न इंडस्ट्री है। घर में कैद हो चुकी पूरी दुनिया ने पॉर्न वेबसाइट पर जाना शुरु कर दिया है जिसके कारण उसकी ट्रैफिक बढ़ गया है।

पॉर्न इंडस्‍ट्री की हुई चांदी

लॉकडाउन के बाद पॉर्न इंडस्ट्री की चांदी चांदी कर हो गई है। पॉर्न इंडस्ट्री का हब कहे जाने वाले अमेरिका में इस कोरोना वायरस के बाद सभी प्रोडक्शन बंद कर दिया गया। जिसके बाद अडल्ट संगठन ने कहा कि जिसके पास भी पॉर्न कंटेंट है वो उसे जारी कर दिया गया है।

इस फैसले के बाद कई पॉर्न स्टार की चांदी- चांदी हो गई। इस दौरान वो अपने बचे हुए कंटेंट अपलोड कर रहे हैं और जिसके लिए उन्हें काफी मोटी रकम दी जा रही है। वहीं लॉस एंजेलिस की एक पॉर्न स्टार से बात की तो उन्होंने बताया कि लॉकडाउन के कराण सभी लोग अपने अपने घर में बंद जिसके कारण हमारा वेबकैम बिजनेस काफी अच्छी स्थिति है

ये पॉर्न वेबसाइट्स ले रहीं क्रिप्‍टोकरेंसी

पॉर्नहब के अलावा वर्चुअल रियाल्‍टी एक्‍सपीरियंस कंटेंट प्रोवाइड कराने वाली अडल्‍ट साइट सेक्‍सलाइकरियल (SLR) ने भी क्रिप्‍टोकरेंसी से भुगतान स्‍वीकारना शुरू कर दिया है। इस साइट का सब्‍सक्रिप्‍शन लेने के लिए यूजर्स क्‍वाइनगेट के जरिये 50 क्रिप्‍टोकरेंसी से ज्‍यादा का भुगतान कर सकते हैं। ये भुगतान बिटक्‍वाइन, बिटक्‍वाइन कैश, लाइटक्‍वाइन, एक्‍सआरपी, एथर, नैनो और ट्रॉन में किया जा सकता है। इसी तरह लाइवजैसमिन और मैनीविडस भी क्रिप्‍टोकरेंसी के जरिये भुगतान की सुविधा दे रही हैं। इनमें लाइवजैसमिन यूजर्स को लाइव स्‍ट्रीमिंग और वेबकैम शो के लिए पहचानी जाती है। वहीं, मैनीविडस कनाडा की अडल्‍ट साइट है। ये साइट वीडियो, लाइव स्‍ट्रीमिंग और ई-कॉमर्स कंपनी के तौर पर पहचानी जाती है। इनके अलावा नॉटी अमेरिका और कैमसोडा भी इस माध्‍यम से भुगतान स्‍वीकार कर रही हैं। वहीं, पॉर्न स्‍टार्स भी क्रिप्‍टोकरेंसी से भुगतान को प्रोत्‍साहित कर रहे हैं।

भारतीय देख रहे है ज्‍यादा पोर्न

X-Hamster porn website के वाइस प्रेसिंडेंट एलेक्स हॉकिंस (Vice president alex hawkins) ने मुताबिक लॉकडाउन के दौरान पोर्न साइट के ट्रैफिक में 10 से 20 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई है। हॉकिंस के बताया कि भारत में ज्यादातर देशी पोर्न देखा जा रहा है। वेबसाइट के मुताबिक प्रतिदिन 30 मिलियन लोग इस पर आते हैं। हॉकिंस ने बताया कि भारत में सबसे इंडियन पोर्न देखी जाती हैं। इसके अलावा पुरुष मॉम में ज्यादा दिलचस्पी रखते हैं और महिलाएं पोर्न फॉर वुमेन में रुचि लेती हैं।

   
 
स्वास्थ्य