Back
Home » खेल
हॉग की मौजूदा वर्ल्ड टेस्ट XI में कोहली को नहीं मिली जगह, अफ्रीकी बल्लेबाज को बनाया कप्तान
Khabar India TV | 23rd May, 2020 05:44 PM

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व स्पिनर ब्रेड हॉग ने मौजूदा वर्ल्ड टेस्ट इलेवन टीम चुनी है जिसमें भारतीय कप्तान विराट कोहली शामिल नहीं है। पूर्व ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर ने अपनी टीम की कप्तानी की जिम्मेदारी क्विंटन डी कॉक को सौंपी है। हालांकि, विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन को अभी भी दक्षिण अफ्रीका की टेस्ट टीम का कप्तान नियुक्त नहीं किया गया है। ब्रैड हॉग ने मौजूदा वर्ल्ड टेस्ट इलेवन में भारत के चार खिलाड़ियों को जगह दी है जिनमें रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल, अजिंक्य रहाणे, और मोहम्मद शमी शामिल हैं। हॉग ने अपनी मौजूदा वर्ल्ड टेस्ट इलेवन में इंग्लैंड के किसी खिलाड़ी का नाम शामिल नहीं किया है।

हॉग ने अपनी मौजूदा विश्व टेस्ट इलेवन का ऐलान करते हुए यूट्यूब चैनल पर कहा, "पिछली 15 पारियों में कोहली सिर्फ चार बार 30 से ज्यादा का स्कोर बना पाए हैं, यही कारण है कि कोहली मेरी टीम में शामिल नहीं हैं।"

ब्रेड हॉग की मौजूदा वर्ल्ड टेस्ट इलेवन टीम: मयंक अग्रवाल, रोहित शर्मा, मार्नस लाबुशाने, स्टीव स्मिथ, बाबर आजम, अजिंक्य रहाणे, क्विंटन डी कॉक (कप्तान), पैट कमिंस, मोहम्मद शमी, नील वैगनर और नॉथन लियोन।

उन्होंने कहा, "मयंक जिस तरह से कवर ड्राइव और पुल शॉट खेलता है, वो मुझे बहुत पसंद है। मैंने रोहित को भी चुना है क्योंकि वह बहुत रिलेक्स खिलाड़ी है, तीसरे नंबर पर मैंने मार्नस लाबुशाने को रखा है।"

हॉग ने आगे कहा, "बाबर आज़म ने पिछले साल ब्रिस्बेन में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शानदार शतक जड़ा था। मेहमान टीम के लिए ब्रिस्बेन में अच्छा प्रदर्शन करना बहुत मुश्किल होता है। छठे नंबर पर मैंने अजिंक्य रहाणे को चुना है। रहाणे ने सीजन में लगातार शानदार प्रदर्शन किया है।" 

श्रीसंत के विश्व कप विजयी कैच पर उथप्पा को नहीं था भरोसा, बोले - किस्मत थी साथ

ICC टेस्ट रैंकिंग में विराट कोहली दूसरे स्थान पर हैं, जबकि पहले स्थान पर ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ हैं। टीम रैंकिंग के मामले में ऑस्ट्रेलिया शीर्ष स्थान पर है, जबकि भारत तीसरे स्थान पर है। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच इस साल के अंत में चार मैचों की टेस्ट सीरीज खेल जाने की उम्मीद है। विराट कोहली की अगुवाई वाली भारतीय टीम विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) की पाइंट टेबल में शीर्ष स्थान पर है जबकि ऑस्ट्रेलिया दूसरे स्थान पर है।

   
 
स्वास्थ्य