Back
Home » खेल
भुवनेश्वर कुमार ने बताया प्लान, इस तरह सचिन को घरेलू क्रिकेट में शून्य पर किया था चलता
Khabar India TV | 23rd May, 2020 09:28 PM

टीम इंडिया के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ( भुवी ) ने पाकिस्तान के खिलाफ जब अपने पहले अंतराष्ट्रीय मैच में कदम रखा तो अपनी लहराती गेंदों से सभी का दिल जीता। इतना ही नहीं भुवी ने अपने डेब्यू मैच की पहली गेंद पर पाकिस्तान के बल्लेबाज मोहम्मद हफीज का विकेट उड़ा दिया था। इससे शानदार डेब्यू किसी भी गेंदबाज के लिए नहो हो सकता है। भुवी ने हफीज को बेहतरीन इनस्विंग मारी और वो चलते बने। यही से साबित हो गया था कि भुवी टीम इंडिया के लिए काफी दिनों तक खेलने वाले हैं।

इस तरह अंतराष्ट्रीय क्रिकेट तक सफर तय करने वाले भुवनेश्वर ने घरेलू क्रिकेट में भी काफी धमाल मचाया। जिसमे वो भारत के ऐसे पहले तेज गेंदबाज बने जिन्होंने क्रिकेट के भगवान् कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर को घरेलू क्रिकेट में शून्य पर आउट किया था। 2008-09 रणजी सीजन में 19 साल के भुवनेश्वर कुमार ने उत्तर प्रदेश के लिए खेलते हुए सचिन को शून्य पर चलता किया। इस तरह वो 15 गेंद खेल कर चलते बने। तबसे भुवनेश्वर का नाम घरेलू क्रिकेट में गूँजने लगा था। इस तरह सचिन को उन्होंने तब कैसे आउट किया था या क्या प्लान बनाया था इसके बारे में खुलासा किया है।

भुवी ने महिला क्रिकेटर स्मृति मंधाना और जेमिमा के साथ यूट्यूब चैनल पर बातचीत में कहा, "हमेशा आप मैच की शुरुआत में विकेट लेना चाहते हो। लेकिन आप कितने विकेट लोगे इसके बारे में नहीं सोचते हो।"

भुवी ने आगे कहा, 'लेकिन बात जब सचिन के विकेट की होती है तो मैं कहना चाहूँगा काफी लकी था। क्योंकि जिस पोजीशन पर सचिन आउट हुए थे ना तो वो शार्ट लेग था ना ही वो मिड विकेट था। इसका क्रेडिट टीम के कप्तान मोहम्मद कैफ को देना चाहूँगा जिन्होंने फील्डिंग सेट की थी। मैंने बस अपनी इनस्विंगर डाली और वो आउट हो गए। "

ये भी पढ़े : श्रीसंत के विश्व कप विजयी कैच पर उथप्पा को नहीं था भरोसाबोले - किस्मत थी साथ

बता दें कि भुवनेश्वर कुमार पिछले काफी समय से चोट के चलते टीम इंडिया के बाहर चल रहे हैं। ऐसे में वो जल्द से जल्द फिट होकर टीम इंडिया में अपनी वापसी करना चाहेंगे। भुवी अब तक टीम इंडिया के लिए 21 टेस्ट मैच 114 वनडे और  43 टेस्ट मैच खेल चुके हैं। जिसमें उनके नाम क्रमशः 63, 132 और 41 विकेट शामिल है।

   
 
स्वास्थ्य